राम मंदिर पर फैसले के बाद देश और प्रदेश की जनता ने शांति बनाए रखी- योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सुप्रीमकोर्ट ने राम मंदिर पर एतिहासिक फैसला देकर सभी चुनौती और समस्याओं को खत्म कर दिया। फैसले के बाद देश और प्रदेश की जनता ने शांति व्यवस्था बनाए रखी। जनता को धन्यवाद दिया जाना चाहिए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस वे को खजनी क्षेत्र में ही गोरखपुर से जोड़ा जाएगा। इसके दोनों तरफ औद्योगिक इकाइयां स्थापित की जाएंगी। इससे रोजगार के बेहतर अवसर पैदा होंगे। युवाओं को नौकरी के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा।

मुख्यमंत्री योगी ने रविवार को पूर्व मुख्यमंत्री वीर बहादुर सिंह के भतीजे स्वर्गीय सुरेंद्र बहादुर सिंह उर्फ गुड्डू बाबू की प्रतिमा का अनावरण वीर बहादुर सिंह स्नोतकोत्तर महाविद्यालय परिसर हरनही (महुराव) में किया। इसके बाद उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए विपक्ष पर हमला बोला और कहा कि सपा, बसपा और कांग्रेस ने खजनी क्षेत्र के कंबल कारखाने को बंद करा दिया था। इसे शुरू कराया गया है।

राम मंदिर पर फैसले के बाद देश और प्रदेश की जनता ने शांति बनाए रखी- योगी

अब भेड़ें पाली जा सकेंगी। कंबल फिर बनेगा। पिछली सरकारों ने खाद कारखाने को बेईमानी और भ्रष्टाचार का अड्डा बना दिया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खाद कारखाना का शिलान्यास किया। यह 2020 में बनकर तैयार हो जाएगा। प्रधानमंत्री ही खाद कारखाना का लोकार्पण करेंगे। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के आसपास औद्योगिक गलियारा बनाया जा रहा है। देश, विदेश की बड़ी कंपनियां औद्योगिक गलियारे में निवेश करेंगी। रोजगार की बड़ी संभावना विकसित होगी। गैस पाइपलाइन भी बिछाई जा रही है। इसके जरिए घरों से पाइप्ड नेचुरल गैस (पीएनजी) पहुंचाई जाएगी।

1.80 करोड़ विद्यार्थियों को मिलेगा स्वेटर
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों में पढ़ने वाले 1.80 करोड़ विद्यार्थियों को स्वेटर देने की व्यवस्था की गई है। सर्दी में विद्यार्थियों को स्कूल जाने में दिक्कत नहीं होगी। बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के योजना के तहत ही कन्या सुमंगला योजना लाई गई है। इसके तहत बेटी को जन्म से पढ़ाई-लिखाई तक 15 हजार रुपये दिए जाएंगे। मुख्यमंत्री विवाह योजना के तहत बेटियों को 51 हजार रुपये की आर्थिक सहायता भी दी जा रही है। वृद्धा, विधवा और विकलांग पेंशन की व्यवस्था की गई है।

महाराष्ट्र मामले पर सुप्रीम कोर्ट कल सुबह 10.30 बजे सुनाएगा फैसला

पराली न जलाएं किसान
मुख्यमंत्री ने किसानों से खेत में पराली न जलाने की अपील भी की। उन्होंने कहा कि पराली जलाने से बड़ी मात्रा में प्रदूषण होता है। इससे बीमारियां फैलती हैं। पराली का इस्तेमाल कंपोस्ट के रूप में किया जा सकता है। इससे मिट्टी की उर्वरा शक्ति बढ़ेगी। पैदावार भी दोगुनी होगी।

=>
LIVE TV