निर्भया केस: अक्षय के बाद पवन की क्यूरेटिव याचिका पर 2 मार्च को फैसला सुनाएगा कोर्ट

निर्भया रेप के दोषी पवन ने एक बार फिर क्षमा की अर्जी लगाई है। उसने कोर्ट में क्यूरेटिव याचिक दाखिल की है। पांच जजों की बेंच इस याचिका पर 2 मार्च को अपना फैसला सुनाएगी। पवन के अलावा बाकी तीन दोषियों अक्षय, विनय, मुकेश की क्यूरेटिव अर्जी और राष्ट्रपति के समक्ष दायर की गई है। कोर्ट ने 3 मार्च को फांसी के लिए डेथ वारंट जारी किया था.

निर्भया केस

निर्भया गैंग रेप केस के दोषी पवन गुप्ता  ने शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में क्यूरेटिव पिटीशन दाखिल कर दी. पवन ने सुप्रीम कोर्ट से फांसी की सजा को उम्रकैद में बदलने की मांग की है. इस पवन की ओर से फांसी चालने की एक और साजिश के रूप में देखा जा रहा है. चारों दोषियों को एक साथ फांसी देने के लिए 3 मार्च सुबह 6 बजे का डेथ वारंट जारी हो चुका है.

भारत में 4जी के ज़माने में क्यों बेच रहे हैं 5जी स्मार्टफोन? जानें वजह…

इस मामले में अन्य तीनों दोषी अक्षय, विनय, मुकेश की क्यूरेटिव और राष्ट्रपति के समक्ष दायर की गई दया याचिका पहले ही खारिज हो चुकी हैं. पवन के पास अभी क्यूरेटिव पिटीशन दाखिल करने और राष्ट्रपति के समक्ष दया याचिका दाखिल करने का कानूनी अधिकार मौजूद है. ऐसे में पवन ने फांसी से चंद दिन पहले ही कोर्ट में क्यूरेटिव पिटीशन दाखिल कर फांसी टालने की एक बार फिर कोशिश की है.

=>
LIVE TV