Sunday , September 24 2017

जन्मदिन के मौके पर मोदी के जश्न को एक कांग्रेसी नेता ने किया किरकिरा, दे दिया अपमानित करने वाला तोहफा

अच्छी सरकार के लिए मज़बूत विपक्षनई दिल्ली। एक अच्छी सरकार के लिए मज़बूत विपक्ष का होना बेहद जरुरी होता है। लेकिन अगर विपक्ष के नेताओं की टिप्पणियां अश्लीलता या गाली में परिवर्तित होने लग जायें तो यह लोकतंत्र के लिए बड़ा खतरा साबित हो जाता है। जोकि एक अच्छी राजनीति का हिस्सा कतई नहीं हो सकता। लेकिन कांग्रेस पार्टी के नेताओं के बयान आये दिन बखेड़ा खड़े कर देते हैं, जोकि साफ़-सुथरी राजनीति छोड़ गन्दी राजनीति पर उतर आते हैं।

कांग्रेस नेताओं द्वारा अश्लील ट्वीट का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है। पूर्व मंत्री दिग्विजय सिंह के बाद अब पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेसी नेता मनीष तिवारी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके फॉलोवर्स के खिलाफ अश्लील ट्वीट किया है।

तिवारी ने मोदी को निशाना बनाते हुए बेहद भद्दे किस्म के शब्दों का प्रयोग किया। जोकि किसी भी राजनेता को शोभा नहीं देता है। उन्होंने पीएम और उनके प्रसंशकों को लेकर अपने ऑफीसियल ट्विटर अकाउंट के ज़रिये से बेहद गंदे वाक्यों का इस्तेमाल किया।

बता दें इससे पहले कांग्रेसी नेता दिग्विजय सिंह ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाना बनाते हुए गालीगलौच वाली फोटो ट्वीट की थी।

क्या है पूरा मामला

मनीष तिवारी ने नरेंद्र मोदी से संबंधित एक वीडियो शेयर किया है। इसमें पीएम मोदी राष्ट्रगान के दौरान चलते हुए दिखाई दिए। जोकि मोदी समर्थकों को रास नहीं आया। इस पर एक व्यक्ति ने तिवारी पर तल्ख़ टिपण्णी करते हुए कहा कि आप मोदी को देशभक्ति न सिखाइए चाचा? उन्हें महात्मा गांधी भी देशभक्ति नहीं सिखा सकते। लेकिन ये जरुर पता चल गया कि आप कितने नीचे तक गिर सकते हैं।

सरकारी कर्मचारियों की हुई बल्ले-बल्ले, जन्मदिन पर पीएम मोदी ने पूरी कर दी मन की मुराद

इसके बाद उस व्यक्ति (दीपक कुमार सिंह) के ट्वीट पर बौखलाए तिवारी ने अश्लील शब्दों में जवाब देते हुए मोदी फॉलोवर्स को कहा, ‘इसे कहते हैं चूतिया को भक्त बनाना और भक्तों को पर्मानेंट चूतिया बनाना। जय हो..’ उन्होंने आगे भी दीपक के उस लाइन का मजाक उड़ाया जिसमें उसने कहा था कि‍ नरेंद्र मोदी को महात्मा गांधी भी देशभक्ति नहीं सि‍खा सकते हैं।

इसके बाद से भाजपा ने तीखी प्रतिक्रिया ज़ाहिर करते हुए कहा कि कांग्रेसी नेताओं के असली चेहरे अब सामने आ रहे हैं। सुब्रमण्यम स्वामी ने इसके जवाब में कहा कि हम मनीष तिवारी को जानते हैं, वह एक समझदार इंसान हैं। लेकिन लगता है उन्हें कांग्रेस के कम पढ़े लिखे नेताओं ने ऐसा करने के लिए कहा है। शायद वे लोग बीजेपी को मजबूत बनते देख दुखी हो रहे हैं।

इसके अलावा वामपंथी दल सीपीआई ने भी मनीष तिवारी के बयानों की निंदा करते हुए राजनेताओं को सामाजिक और राजनीतिक जीवन में शालीनता का परिचय देने की नसीहत दी।

रोहिंग्या मुस्लिम : अल्पसंख्यक आयोग ने किया सरकार का खुला समर्थन, बोले- मदद से पहले देश हित जरूरी

पार्टी के नेता डी राजा ने कहा कि भले ही प्रधानमंत्री और उनकी विचारधारा से मतभेद हो, लेकिन वह हमारे प्रधानमंत्री हैं ऐसे में उनके खिलाफ कुछ भी बोलने से पहले भाषा पर नजर जरुर डालनी चाहिए।

दिग्गी भी कर चुके हैं ऐसी भाषा का प्रयोग

दिग्विजय सिंह ने भी मीम पोस्ट के ज़रिये मोदी की तस्वीर के साथ तीन लाइन लिखी थी। इसमें लिखा कि मेरी दो उपलब्धियां- पहली ‘भक्तों को चूतिया बनाया, और दूसरी चूतियों को भक्त बनाया।‘

इस ट्वीट के साथ दिग्विजय सिंह ने यह भी लिखा कि यह उनका अपना नहीं है, लेकिन इसे शेयर करने से खुद को रोक नहीं पा रहे हैं। हालाकि उन्होंने बाद में इस ट्वीट को डिलीट भी कर दिया था।

=>
LIVE TV