Wednesday , September 20 2017

सरकारी कर्मचारियों की हुई बल्ले-बल्ले, जन्मदिन पर पीएम मोदी ने पूरी कर दी मन की मुराद

निचले स्तर के कर्मचारियोंनई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 67वें जन्मदिन पर वित्त मंत्रालय ने निचले स्तर के कर्मचारियों को एक बड़ी खुशखबरी देने का फैसला किया है। दरअसल कर्मचारी संगठनों और सरकार के बीच निचले स्तर के कर्मचारियों की तनख्वाह को 18 हजार रुपये प्रतिमाह से बढ़ाकर 26 हजार करने की मांग पर सहमति बन गई है। लेकिन सरकार ने कर्मचारियों का वेतन अपने हिसाब से बढ़ाया है।

रोहिंग्या मुस्लिम : अल्पसंख्यक आयोग ने किया सरकार का खुला समर्थन, बोले- मदद से पहले देश हित जरूरी

वित्त मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार जनवरी 2018 में निचले स्तर के कर्मचारियों की तनख्वाह को 18 हजार रुपये से बढ़ाकर 20 हजार करने पर मुहर लग गई है।

खबर के अनुसार सरकार ने यह फैसला संगठनों से हुई उस बातचीत के बाद लिया है, जिसमे लोगों ने कहा था कि अगर सैलरी नहीं बढ़ाई गई तो वे कोई और नौकरी खोजने की कोशिश करेंगे।

क्या आपको पता है रेलवे का ये नया नियम…? जानिए किस तरह हो जाएगी आपकी नींद हराम

बता दें कि कर्मचारी संगठनों ने सरकार से निचले स्तर के कर्मचारियों की बेसिक सैलरी 26 हजार रुपए प्रतिमाह करने की मांग की थी। लेकिन सरकार ने उनकी मांग यह कह कर ठुकरा दी थी कि वेतन संशोधन के फार्मूला के अनुसार, 3.68 गुणा हो जाएगा, जिसे लागू करना संभव नहीं है।

लेकिन संगठन भी आखिरी तक इसी बात पर अड़े रहे कि प्रतिमाह 18 हजार रुपए बेसिक सैलरी पर्याप्त नहीं है। जिसपर विचार-विमर्श करते हुए एनोमली कमेटी और कर्मचारी संगठनों के बीच न्यूनतम सैलरी को प्रतिमाह 20 हजार रुपये किया गया।

=>
LIVE TV