बिजली विभाग गटक रहा किसानों की फसले, नाराज किसानों ने किाय जमकर हंगामा

Riport- SACHIN TYAGI

बागपत। बिजली विभाग पर बागपत में करोडों रूपये खर्च करने के बाद भी विभाग किसानों की फसले गटक रहा है। पुराने तारों को बदलने का दावा करने वाले विभाग की लापरवाई से आज भी किसानों की फसले जल रही है। रविवार को दोघट के जंगल में हाईटेंशन विद्युत लाइन के जर्जर तारों से गिरी चिंगारी से पांच किसानों की चैदह बीघा गन्ने की फसल जल गयी। नाराज किसानों ने ऊर्जा निगम के खिलाफ जमकर हंगामा प्रदर्शन किया।

बागपत में विधुत विभाग के जर्जर तारों को बदलने के लिए कई करोडों खर्च दिये गये है। गांव की अलग लाईन और नये बिजलीधर तक बनाने का दवा विभाग कर रहा है। लेकिन जर्जर तारों से आज भी किसानों को भारी नुकसान उठाना पड रहा है। आये दिन विभाग के दावे किसानों की फसल को अपना निवाला बना रहे हैं ।

रविवार को दोघट के जंगल से होकर जा रही हाईटेंशन विद्युत लाइन के तारों से चिंगारी गिरने से तारों के नीचे खड़ी गन्ने की फसल में आग लग गयी। आग की सूचना मिलने पर पहुंचे किसानों ने मिट्टी पानी डालकर आग पर काबू पाया। लेकिन तब तक दोघट निवासी इलियास की छह बीघा, अफलातून की दो बीघा, मनोज की दो बीघा, सूधीर की दो बीघा जबकि दो बीघा फसल इदरीशपुर निवासी पवन की जल गई।

स्कार्पियो की टक्कर से बाइक सवार की मौत, गुस्साए ग्रामीण ने जाम की रोड

फसल जलने से नाराज किसानों ने ऊर्जा निगम के खिलाफ हंगामा किया। आरोप लगाया कि जर्जर तारों को बदलवाने की कई बार मांग कर चुके है। लेकिन अभी तक समस्या का समाधान नही कराया गया है। किसानों ने जली फसल के मुआवजे की मांग की है।

=>
LIVE TV