गंदगी से बुरी तरह बीमार हो चुका है कानपुर शहर, कोशिश के बाद भी नहीं सुधर रहे हालात

रिपोर्ट- राहुल कटियार 

विश्व के सबसे प्रदूषित शहरों में से एक कानपुर की स्थिति दिन ब दिन बिगड़ती जा रही है। कानपुर शहर अब बुरी तरह बीमार हो चुका है और इस बीमारी के लिए इस शहर की गंदगी मुख्य वजह है।

शहर में कूड़े का निस्तारण न के बराबर हो रहा है। कूड़े को न ही समय से उठाया जा रहा है और न ही उसे तय स्थान तक पहुंचाया जा रहा है। इसके चलते शहरभर में जगह जगह कूड़े के ढेर आपको देखने को मिल जाएंगे।

कानपूर में गंदगी

ताजा तस्वीरें कानपुर के पॉश इलाके आर्य नगर खलासी लाइन और काकादेव की है । तस्वीरे देख कर अंदाजा लगाया जा सकता है कि किस तरह नगर निगम प्रशासन शहर को कूड़ा मुक्त कर स्मार्ट बनाने में जुटा है।

इन कूड़ाघरो के पास में कहीं स्कूल हैं तो कहीं अस्पताल। खास बात ये है की अधिकारी हो या कर्मचारी शहर की इस स्थिति से सब वाकिफ हैं। लेकिन ध्यान इस ओर कोई नही दे रहा है।

आजमगढ़ के पटाधन गांव में खस्ता हाल सरकारी योजनायें, प्रधान और सेक्रेटरी की मनमानी से हुआ बुरा हाल

गली गली बने आस्थाई कूड़ाघर और उनपर लगने वाले आवारा जानवरो के झुंड से स्थानीय जनता बुरी तरह परेशान है। काफी शिकायतों के बाद भी जिम्मेदार अधिकारी और जनप्रतिनिधि इस ओर ध्यान नही दे रहे है।

=>
LIVE TV