बड़ी खबर: भावुक भाषण के बाद कर्नाटक में ढाई दिन के सीएम येदियुरप्पा ने दिया इस्तीफा

नई दिल्ली कर्नाटक में 104 विधायकों के सहारे सत्ता पर काबिज होने का दावा करने वाली भाजपा की आज अग्निपरीक्षा हुई। प्रदेश में 224 में से 222 सीटों पर वोटिंग हुई थी जिसमें बीजेपी के पास 104, कांग्रेस के पास 78, जेडीएस के पास 37 और 2 निर्दलीय विधायक हैं।  येदियुरप्पा कर्नाटक विधानसभा में बहुमत साबित करने से पहले ही अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया है।

बी एस येदुरप्पा

उन्होंने कहा कि लोगों ने हमें सराहा  है। लोगों ने हमें बड़े प्यार से चुना है। मेरे पास 104 विधायक हैं। जनादेश कांग्रेस और जेडीएस के खिलाफ गया है। दोनों दलों का गठबंधन अवसरवादिता है। जनादेश के खिलाफ दोनों एक हो गए हैं।

येदियुरप्पा ने कहा, ‘कर्नाटक के किसान आंसू बहा रहे हैं। करीब 3,700 किसानों ने खुदकुशी की। जब तक जिंदा रहूंगा किसानों के हित के लिए काम करता रहूंगा। मैं किसानों को बचाना चाहता हूं। हमने मौके पर जाकर किसानों की मदद की।’ उन्होंने आगे कहा कि पिछली सरकार से नाराज लोगों ने उनके खिलाफ वोट दिया। गरीब किसानों को बेहतर जीवन मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि वह जनसेवा के लिए जीवन को समर्पित करना चाहते हैं।

मुख्यमंत्री येदियुरप्पा ने विपक्षी गठबंधन पर आरोप लगाया और राज्यपाल के पास जाकर इस्तीफा देने का ऐलान किया। इसके साथ ही ढाई दिन की सरकार ने फ्लोर टेस्ट का सामना किए बगैर ही सत्ता छोड़ने का ऐलान कर दिया।

येदियुरप्पा ने कहा, ‘ जनता ने हमें 113 सीटें नहीं दी। अगर वह ऐसी करती तो राज्य में स्थिति बदल जाती, दूसरी तस्वीर होती। राज्य को ईमानदार नेताओं की जरुरत है। मेरे सामने आज अग्निपरीक्षा है। मैं फिर से जीत के आऊंगा। हम 150 से ज्यादा सीटें जीतेंगे। राज्य के हर क्षेत्र में जाऊंगा और जीतकर आऊंगा। राज्य में जल्द चुनाव होगा.।गौरतलब है कि कर्नाटक में शनिवार को हो रहे महत्वपूर्ण बहुमत परीक्षण से पहले कर्नाटक सचिवालय की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है और यहां अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है।

इससे पहले  मुख्यमंत्री येदियुरप्पा ने विपक्षी गठबंधन पर आरोप लगाया और राज्यपाल के पास जाकर इस्तीफा देने का ऐलान किया। इसके साथ ही ढाई दिन की सरकार ने फ्लोर टेस्ट का सामना किए बगैर ही सत्ता छोड़ने का ऐलान कर दिया। इस ऐलान के बाद कांग्रेस औ जेडीएस कार्यकर्ताओं में जश्न का माहौल है।

 

=>
LIVE TV