मंगलवार , जून 19 2018

आखिर कौन हैं उपेंद्र शुक्ला, जो बनेंगे योगी आदित्यनाथ के ‘उत्तराधिकारी’

लखनऊ। साल 2017 में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री का पद संभालने के बाद सांसद योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर लोकसभा सीट से इस्तीफा दे दिया था। जिसके बाद से गोरखपुर के सांसद का पद खाली है। अब इस सीट के लिए उपचुनाव की प्रक्रिया की जा रही है और भाजपा ने इस सीट से योगी का पद संभालने की ज़िम्मेदारी उपेंद्र दत्त शुक्ला को सौंपी है।

उपेंद्र दत्त शुक्ला

गौरतलब है कि, योगी आदित्यनाथ इस सीट से लगातार 5 बार सांसद रह चुके हैं। ऐसे में ये सीट जीतना भाजपा के लिए आन, बान, शान की लड़ाई है। इतना ही नहीं इस सीट से जीत कर गोरखपुर की जनता की उम्मीदों पर खरा उतरना उपेंद्र दत्त शुक्ला के लिए भी बड़ी चुनौती है। तो चलिए हम बताते हैं कि योगी की जगह लेने वाले उपेंद्र दत्त शुक्ला में कितना दम है।

यह भी पढ़ें : रोटोमैक के मालिक विक्रम कोठारी पर CBI का शिकंजा, पूछताछ के बाद गिरफ्तार

उपेंद्र दत्त शुक्ल

योगी की सीट से चुनाव लड़ने जा रहे उपेंद्र दत्त शुक्ला काफी लंबे समय से पार्टी और जनता के बीच सक्रिय हैं। लेकिन अब तक उन्हे एक जनप्रतिनिधि के तौर पर काम करने का मौका नहीं मिला है। हालांकि एक दो बार इन्होने कौड़ीराम विधानसभा क्षेत्र से अपना भाग्य भी आजमाया लेकिन पार्टी का टिकट नहीं मिल पाया।

लेकिन ये भी सही है जब जब उन्होंने सम्बन्धित विधानसभा क्षेत्रों में अपना भाग्य आजमाया तब तब वह अपने विरोधियों पर काफी भारी पड़े थे। हालांकि अबकी बीते विधानसभा चुनावों में सहजनवां से उनके नाम की चर्चा चल रही थी, कि वर्तमान विधायक शीतल पांडेय के नाम पर आम सहमति बनते ही कहानी खत्म हो गयी। इसके बावजूद वह बीजेपी के साथ हमेशा लगे रहे और पार्टी में क्षेत्रीय अध्यक्ष जैसे महत्वपूर्ण ओहदे को सम्हालते रहे हैं।

उपेंद्र दत्त शुक्ला की संगठन और कार्यकर्ताओं में अच्छी पकड़ है। पूर्वांचल में उनकी पहचान ब्राह्मण चेहरे के रूप में होती हैं। जो गोरखपुर से राज्यसभा सांसद और वर्तमान में केंद्र में मंत्री शिव प्रताप शुक्ला के बेहद करीबी बताए जाते है।

यह भी पढ़ें : दीदी के दामाद हैं शहंशाह, अब जया के अगले 6 साल का ‘भाग्य’ भी करेंगी तय

जानकारी के लिए बता दें कि, गोरखपुर के अलावा केशव प्रसाद मौर्य के उप मुख्यमंत्री बन जाने के बाद से फूलपुर के सांसद का पद भी खाली है और BJP ने इस सीट से केएस पटेल चुनावी मैदान में हैं।

11 मार्च को होंगे उपचुनाव, नतीजे 14 को

गोरखपुर और फूलपुर लोक सभा सीट के लिए मतदान 11 मार्च को होगा। चुनावों के परिणाम की घोषणा 14 मार्च को होगी। गोरखपुर सीट मुख्यमंत्री आदित्यनाथ और फूलपुर सीट उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के इस्तीफे के बाद खाली हुई है।

=>
LIVE TV