नई तकनीक से बनेंगी सड़कें, लागत में 30% आएगी कमी : केशव प्रसाद मौर्य

केशव प्रसाद मौर्यलखनऊ| यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने गुरुवार को कहा कि सरकार नई तकनीक से सड़क बनाने की योजना पर तेजी से काम कर रही है। उत्तर प्रदेश में सड़क निर्माण के क्षेत्र में राज्य सरकार बड़ा फैसला लेने जा रही है। सड़क निर्माण में नई तकनीक से लागत में 30 फीसदी की कमी आएगी। उन्होंने कहा, “इसके तहत लागत में करीब 30 प्रतिशत की कमी आएगी, यही नहीं सड़कों की मियाद भी 15 साल से बढ़कर 50 साल हो जाएगी। इसके अलावा सरकार प्रदेश की हर सड़क को कम से कम दो लेन करने जा रही है।”

मौर्य ने कहा कि लखनऊ में सड़क निर्माण में नई तकनीक पर दो दिवसीय कांफ्रेंस 8 और 9 दिसंबर को होने जा रही है। इसमें सड़क निर्माण में नई तकनीकी पर चर्चा होगी।

यूनेस्को ने जारी की सर्वश्रेष्ठ धरोहर की लिस्ट, ताजमहल को मिला दूसरा स्थान

उन्होंने बताया कि इस कांफ्रेंस के लिए विशेष तौर पर ब्रिटेन, जर्मनी, नीदरलैंड और ऑस्ट्रेलिया के प्रतिनिधि आ रहे हैं। वहीं देश के सभी राज्यों के पीडब्ल्यूडी मंत्री, प्रमुख सचिव, विभागाध्यक्ष के साथ सीआरआरआई, आईआरसी और सभी आईआईटी संस्थानों के प्रोफेसर भी इसमें उपस्थित रहेंगे।

मौर्य ने कहा कि सड़कों को बेहतर बनाने के लिए यूपी का लोक निर्माण विभाग लगातार प्रयास कर रहा है। प्रदेश में गड्ढामुक्ति अभियान आगे भी जारी रहेगा। सड़कों की गुणवत्ता बढ़ाई जाएगी।

उन्होंने बताया कि कांफ्रें स का उद्घाटन केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी करेंगे। वहीं पहले सत्र की अध्यक्षता मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करेंगे।

अरे कांग्रेसियों, मुझे नीच कहते हो… तुम्हें गुजरात जवाब देगा

मौर्य ने बताया कि उप्र में इस समय 15 जगहों पर नई तकनीक से सड़क बनाई जा रही है। इसमें लागत करीब 30 प्रतिशत कम आंकी गई है। यही नहीं, अब सड़कों की मियाद भी 15 साल से बढ़ाकर 50 साल हो गई है।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि यूपी में अब हर सड़क 2 लेन बनेगी। इसका खाका सरकार ने तैयार कर लिया है। जल्द इस संबंध में शासनादेश जारी कर दिया जाएगा।

=>
LIVE TV