गुरूवार , जुलाई 19 2018

जल निगम अधिकारी और पार्षद की आपसी लड़ाई ने लिया नया मोड़, अब होगी सीबीआई जांच!

राहुल कटियार

जेएनएनयूआरएम योजना के घोटाले का जिन्न फिर बाहर निकल आया है। आज कानपुर के नगर निगम के बाहर भाजपा पार्षदों ने जेएनएनयूआरएम में पिछली सरकारों और अधिकारियों की मिलीभगत के चलते हुए इस घोटाले की सीबीआई जांच की मांग करते हुए जमकर हंगामा काटा।

सीबीआई जांच

इस दौरान अधिकारियों को आड़े हाथों लेते हुए इस घोटाले से जुड़ा हुआ बताया। मामला कुछ यूँ था कि बीते दिनों जल निगम के परियोजना प्रबंधक आरके यादव से भाजपा पार्षद राघवेंद्र मिश्रा और नीरज बाजपेयी से किसी बात को लेकर विवाद हो गया था।

मामला इतना बढ़ गया था कि जल निगम के अधिकारियों ने दोनों पार्षदों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया था। इसी के चलते आज दर्जनों से ज्यादा पार्षद नगर निगम में धरने पर बैठ गए और जहां जल निगम अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाई करने की मांग की। साथ ही जेएनएनयूआरएम के तहत हुए नगर में घोटाले को लेकर सीबीआई जांच की मांग की है।

यह भी पढ़ें:- कुएं में मिला महिला का शव, गांव में मचा हडकंप, जांच में जुटी पुलिस

पार्षद नीरज बाजपेयी ने बताया कि जनप्रतिनिधियों से अधिकारी बुरा बर्ताव कर रहे हैं। उल्टा उन पर ही मुकदमा दर्ज कर दिया जाता है। ये कहां का इंसाफ है।

यह भी पढ़ें:- आय से अधिक संपत्ति के मामले में सपा पूर्व विधायक पर गिरी गाज, जिलाधिकारी के आदेश पर दर्ज हुई FIR

उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्यवाई हो और जो भी घोटाले इस योजना के तहत हुए है उसकी सीबीआई जांच हो। यदि हमारी मांग नहीं मानी गयी, तो हम इसी तरह प्रतिदिन धरना प्रदर्शन करते रहेंगे।

देखें वीडियो:-

=>
LIVE TV