अटल जी के गाँव में छाया सन्नाटा, अच्छी सेहत के लिए हुआ अनुष्ठान

रिपोर्ट: धर्मेन्द्र सिंह

आगरा: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई के पैतृक गांव बटेश्वर में उनकी तबीयत खराब होने की खबर मिलने के बाद से ही लोग परेशान हो उठे। रात से ही तीर्थस्थान भर्ती बटेश्वर में हवन पूजन और यज्ञ शुरू हो गया। अटल बिहारी वाजपेई के स्वास्थ्य लाभ के लिए लोगों की भीड़ इस पूजन के लिए उतर पड़ी। वही साधुओं ने भी भगवान से उनके जल्दी स्वास्थ्य लाभ के लिए पूजन किया।

पूर्व प्रधानमंत्री

यह भी पढ़ें : कलश विसर्जन कर लौट रहे श्रद्धालुओं संग भयानक हादसा, 2 की मौत 17 घायल

बटेश्वर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई का पैतृक गांव है। आज भी इस गांव में उनके परिवार के लोग रहते हैं। जैसे ही अटल बिहारी वाजपेई के एम्स में भर्ती होने की खबर मिली पूरा गांव चिंतित हो उठा। फिर क्या बटेश्वर मंदिर में उनके जल्दी स्वास्थ्य लाभ के लिए हवन पूजन और यज्ञ का काम शुरु हो गया। पूरी रात मंदिर में हवन पूजन चलता रहा। उनके भतीजे राकेश बाजपेई और साधु संतों ने पूर्व प्रधानमंत्री के स्वास्थ्य लाभ के लिए कि यज्ञ का भी आयोजन किया। वही मंदिर के महंत गोपाल भारती एक पैर पर खड़े होकर एक विशेष अनुष्ठान किया।

यह भी पढ़ें : ऑपरेशन ऑल आउट: शिकंजे में दो तस्कर, 100 पेटी शराब बरामद

भारत रत्न एवं पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की तबीयत खराब होने की खबर ने शहरवासियों को भी व्याकुल कर दिया। प्रताप नगर में उनकी बहन के घर लोग पहुंचने लगे। उनकी बहन कमला दीक्षित के पुत्र बधू निर्मला दीक्षित से हाल जाना।

 

=>
LIVE TV