इलाहाबाद विश्विद्यालय छात्र संघ चुनाव 5 अक्टूबर को, प्रत्याशियों के पोस्टर से पटा परिसर

रिपोर्ट—सैयद रज़ा
इलाहाबाद। देश प्रदेश में सियासी राजनीति की नर्सरी कहे जाने वाले इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय में छात्र संघ चुनाव के आगाज से ही कैम्पस में सरगर्मी बढ़ गई है । देश के सबसे पुराने छात्र संघ चुनाव की घोषणा के साथ ही कैम्पस में चुनाव आदर्श संहिता लागू कर दी गई है।

इलाहाबाद विश्विद्यालय छात्र संघ चुनाव 5 अक्टूबर को, प्रत्याशियों के पोस्टर से पटा परिसर

विश्विद्यालय प्रशासन का कहना है कि लिंगदोह की सिफारिशों का कड़ाई से पालन कराया जाएगा इसका जो भी उलंघन करेगा उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी। पूरे छात्र संघ चुनाव की निगरानी सीसीटीव कैमरे के साथ ही इसकी वीडियो रिकॉर्डिंग भी की जाएगी।

छात्र संघ चुनाव का कार्यक्रम 24 सितंबर से 6 अक्टूबर तक है , जिसमें 24-26 सितंबर को छात्रसंघ भवन से नामांकन पत्र की विक्री 27 को नाम वापसी, नामांकन से संबंधित आपत्ति दर्ज की जाएगी।

29 व 30 सितंबर को नामांकन फॉर्म की जांच के बाद वैध प्रत्याशियों की लिस्ट जारी होगी।
वहीं छात्र राजनीति की पाठशाला कहे जाने वाले इलाहाबाद यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनाव की गरिमामयी परम्परा के तहत ऐतिहासिक छात्र संघ भवन प्राचीर से 1 अक्टूबर को अध्यक्ष व उपाध्यक्ष पद के सभी प्रत्याशियों के दक्षता भाषण होगा और माना ये जाता है कि हज़ारों छात्रों के बीच दिया गया छात्र नेताओं का दक्षता भाषण ही जीत का टेस्ट होता है।

यह भी पढ़े: दिल्ली यूनिवर्सिटी में फिर से गूंजेगा छात्र राजनीति का ककहरा, आज हो रहे छात्रसंघ चुनाव

इसके बाद 5 अक्टूबर को मतदान होगा जिसमे 20 हज़ार से ज़्यादा छात्र वोट डालेंगे। 5 अक्टूबर की शाम मतगणना शुरू होगी जिसका परिणाम देर रात घोषित हो जाएगा और दूसरे दिन 6 अक्टूबर को सभी विजयी प्रत्याशियों को शपथ दिलाई जाएगी। इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में छात्र संघ चुनाव की घोषणा के बावजूद कैम्पस व कैम्पस में छात्र नेताओं के होर्डिंग ,बैनर व पोस्टर लगने शुरू हो गए है। उधर विश्विद्यालय के छात्रों का कहना है कि जो छात्रों के हित में सोचे और काम करे उसी प्रत्याशी को विजयी बनाएंगे।

=>
LIVE TV