सिर्फ इस वजह से छात्रा के साथ प्रिसिपल ने किया अभद्र व्यवहार, फांसी लगाकर की आत्महत्या

 रिपोर्ट –  संजय

हरिद्वार — हरिद्वार श्यामपुर थाना क्षेत्र के राजकीय इंटर कॉलेज में छात्र द्वारा फांसी लगाने के मामले ने तूल पकड़ लिया आज छात्र के परिजनों ने स्कूल जाकर जमकर हंगामा काटा और प्रिंसीपल के खिलाफ सख्त कानूनी कार्यवाही की माँग की छात्र के परिजनों के साथ मे स्कूल के छात्र भी उतर आए जिन्होंने प्रिंसिपल पर मृतक छात्र के साथ एक दिन पहले मारपीट के आरोप लगाए हंगामा बढ़ता देख मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह मामले को शांत कराया और इस मामले में जांच कर कार्रवाई की बात कही तो वही मृतक के परिजनों द्वारा प्रिंसिपल पर आरोप लगाने के बाद शिक्षा विभाग ने स्कूल प्रिंसिपल को स्कूल से हटा दिया है और शिक्षा विभाग द्वारा भी इस मामले में जांच की जा रही है।

uttrakhand news

गौरतलब है कि सोमवार शाम को 12 वीं के छात्र मनीष ने अपने घर में फांसी लगाकार आत्महत्या कर ली अब इस मामले में नया मोड़ आ गया है मृतक छात्र के परिजनों ने आरोप लगाए है कि प्रिंसिपल ने देर से आने की वजह से मनीष के साथ अभद्र व्यवहार कर प्रताड़ित किया मृतक छात्र के भाई अमन का कहना है कि मेरा भाई स्कूल आने में लेट हो गया था इसको लेकर प्रिंसिपल द्वारा मेरे भाई को पीटा गया और झाड़ू पोछा लगवाया गया।

वही स्कूल के छात्रों ने प्रिंसिपल पर अक्सर ऐसा करने और पिस्टल लेकर स्कूल आने के आरोप लगाये स्कूल की छात्रा वैशाली का कहना है कि 12वीं के छात्र मनीष कल स्कूल लेट आए थे इसको लेकर प्रिंसिपल उपेंद्र चौधरी द्वारा उनकी पिटाई की गई उसके बाद मनीष स्कूल में बहुत रोया भी था बाद में वह छुट्टी लेकर घर चले गए और वहां जाकर उन्होंने फांसी लगा ली इस घटना के बाद प्रिंसिपल के पास उनका भाई भी आया स्कूल के प्रिंसिपल सभी छात्र छात्राओं के साथ ऐसा ही व्यवहार करते हैं और यहां तक कि वह स्कूल में अपनी गाड़ी में पिस्टल भी लेकर आते हैं।

जिले के शिफन कोर्ट में रह रहे 50 परिवारों को 31 दिसंबर तक ना हटाने का आदेश, अवैध भूमि का पूरा मामला…

शिक्षा के मंदिर में छात्र के साथ हुई इस बर्बरता ने सभी को सन कर दिया क्योंकि सिर्फ लेट आने की वजह से छात्र को इतनी प्रताड़ना झेलनी पड़ी कि उसने घर जाकर अपनी जीवन लीला को ही समाप्त कर लिया।

अब इस मामले में पुलिस के साथ-साथ शिक्षा विभाग भी जांच कर रहा है और जांच के बाद इस मामले में आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की बात कर रहा है देखना होगा कब तक इस मामले में पुलिस और जिला शिक्षा विभाग जांच कर आरोपियों को सलाखों के पीछे भेजता हैं ।

 

 

=>
LIVE TV