रिश्वत लेते रंगे हाथो पकड़े गए लेखपाल, एंटीकरप्शन टीम ने की कार्रवाई

रिपोर्ट- प्रशांत मिश्रा

लखीमपुर खीरी। लखीमपुर खीरी में भ्रष्टाचार इस कदर बढ़ चुका है कि अधिकारियों में पीड़ितों से रिश्वत लेना सिर्फ खेल सा लगने लगा है ।देखा जाये तो लखीमपुर खीरी में भय मुक्त समाज दलाल मुक्त सरकारी कार्यालय इसका जीता जागता सबूत हैं यह लेखपाल हैं।

जो रिश्वत के नाम पर किसान से मछली पालन के लिए पट्टे को लेकर दस हजार की रिश्वत की डिमांड कर रहा था लेकिन लेखपाल साहब यह भूल गए कि भोली,भाली जनता जागरूक हो चुकी हैं। पीड़ित किसान अपनी पीड़ा को लेकर लखनऊ की एंटीकरेप्शन टीम के पास पहुंच गया । एंटीकरेप्शन टीम ने रिश्वत खोर लेखपाल जीवन लाल को दस हजार की रिश्वत लेते धर दबोचा ।

पलिया तहसील में ये कोई नई बात नहीं है कि लेखपाल रिश्वत ले रहें हैं । इससे पहले भी एक लेखपाल का रिश्वत लेते वीडियो वायरल हुआ था जिस पर लेखपाल साहब पर कार्यवाही की बात कही गयी थी ।

लेकिन कुछ ही दिनों में सब कुछ सामान्य हो गया और फिर लेखपाल साहब अपनी ड्यूटी करने पहुंच गये और फिर से उन्होने अपना रिश्वत का खेल खेलना शुरू कर दिया , जिससे आखिर पीड़ित ने लखनऊ जाकर एटी करेप्शन टीम से अपनी शिकायत दर्ज करवाई और पलिया तहसील में रिश्वतखोर लेखपाल को एटी करेप्शन टीम ने रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया ।

लेकिन सोचने वाली बात ये है कि अगर इससे पहले हो रही रिश्वत खोरी का खुलाशा होने पर रिश्वतखोर लेखपाल पर कड़ी कार्यवाही की जाती तो रिश्वत खोरों पर लगाम लगाया जा सकता था लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ ।

बच्चा चोरी का आरोप लगाते हुए ग्रामीणों ने महिला को पकड़कर किया पुलिस के हवाले

फिलहाल लेखपाल जीवनलाल को पालिया थाने लेकर जाया गया ।जहां पूछताछ के बाद लेखपाल के खिलाफ रिश्वत खोरी की धाराओं में मामले को दर्ज कर लिया गया हैं और रिश्वत खोर लेखपाल को पलिया पुलिस जेल भेजने की तैयारी में जुट गई हैं।

=>
LIVE TV