यह है अनोखा पहाड़ 400 वर्षों से बता रहा गर्भ में लड़का है या लड़की

गर्भ में पल रहे शिशु का लिंग पता करने के लिए सोनोग्रफी ही एकमात्र उपाय है। कन्या भ्रूण हत्या के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने इस पर प्रतिबंध लगा दिया है। लेकिन आप यह सुनकर हैरानी होगी कि एक ऐसी पहाड़ी भी है जो गर्भ में पल रहा शिशु लड़का है या लड़की इस बारे में बता देती है। गर्भ में पल रहे बच्चे का लिंग जांचने का यह अनोखा तरीका झारखंड के लोहरदगा स्थित खुखरा गांव में के लोग इस्तेमाल करते है। जिसमें एक पैसा भी खर्च नहीं करना होता है।

पजहरी नाम की इस पहाड़ी को लेकर लोगों में यह अटूट आस्था है जिस पर चांद जैसी आकृति बनी हुई है जो गर्भ में पल रहे बच्चे के बारे में बता देता है कि लड़का है या लड़की। बताया जा रहा है कि ये पहाड़ पिछले 400 वर्षों लोगों को उनके भविष्य के बारे में बता रहा है। स्थानीय लोगों के अनुसार गर्भवती महिला एक निश्चित दूरी से खड़ी होकर इस पहाड़ी पर बने चांद की ओर पत्थर मारती हैं। अगर पत्थर चंद्रमा के मध्य जाकर लगे तो समझा जाता है, कि गर्भ में लड़का है और यदि वह पत्थर चंद्रमा के बाहर लगे तो माना जाता है कि लड़की पैदा होगी।

अब इस बात में कितनी सच्चाई है यह तो हम नहीं जानते लेकिन वहां रहने वाले लोगों में इस पहाड़ी के प्रति अटूट श्रृद्धा रखते हैं।

=>
LIVE TV