क्रिकेटर मोहम्मद शमी के घर में फिर उठा तूफान, पत्नी के घर पहुंचते ही हुआ ये…

टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां रविवार की शाम अचानक अपने ससुराल सहसपुर अलीनगर पहुंच गईं। बेटी बेबो और उसकी आया के साथ वह घर में दाखिल हो गईं।
मोहम्मद शमी
हसीन के कदम से घर पर मौजूद सास और देवर से नोकझोंक शुरू हो गई। हंगामे पर घर के बाहर ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। हसीन के घर में दाखिल होने पर शमी की मां ने उसके खिलाफ तहरीर दी है। मां का आरोप है कि हसीन जबरदस्ती घर में घुस गई है और उन्हें बाहर निकाल दिया गया है। हसीन को घर से बाहर निकाला जाए।

क्रिकेटर मोहम्मद शमी और उनकी पत्नी हसीन जहां के बीच मार्च 2018 से विवाद चल रहा है। हसीन जहां ने शमी के परिवार के चार सदस्यों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। मामला कोर्ट में चल रहा है। रविवार शाम हसीन जहां बेटी बेबो के साथ अचानक ससुराल सहसपुर अलीनगर में आ धमकीं।

राहुल ने शरद पवार को नहीं माना PM उम्मीदवार, माया और ममता को बताया इसके लायक

ससुराल में उनकी सास अंजुम और देवर मोहम्मद कैफ मौजूद थे। हसीन बेटी के साथ घर में दाखिल हो गईं। जिसे लेकर सास और देवर से उनकी बहस हुई। इसके बाद घर में हंगामा शुरू हो गया। हसीन जहां के ससुराल पहुंचने पर हालात को देखते हुए डिडौली पुलिस ने महिला थाना की प्रभारी को मौके पर बुला लिया। घर में पहुंची महिला एसओ को हसीन जहां ने दो टूक जवाब दिया, वह अपने पति के घर आई है। ये मेरा और मेरे पति का घर है। मैं यहीं पर रहूंगी।

सालभर पहले ससुराल पहुंची हसीन के लिए नहीं खुले थे घर के ताले

किक्रेटर पति मोहम्मद शमी से विवाद के बाद हसीन जहां पहले भी ससुराल के घर में घुसने की कोशिश कर चुकी हैं। करीब सालभर पहले हसीन जहां घर में दाखिल होने के लिए ससुराल पहुंची थी। लेकिन उनके गांव पहुंचने से पहले सास और देवर घर पर ताला लगाकर भाग निकले थे। हसीन के लिए घर के ताले नहीं खुले थे।
राहुल ने शरद पवार को नहीं माना PM उम्मीदवार, माया और ममता को बताया इसके लायक

क्रिकेटर मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां रविवार की तरह ही छह मई 2018 की सुबह कोलकाता से बेटी बेबो, वकील और आया के साथ डिडौली थाना पहुंच गई थीं। जहां से अपनी ससुराल सहसपुर जाने के लिए एसओ डिडौली से पुलिस संरक्षण मांगा था। काफी देर वह थाने में बैठी रहीं थी। इसके बाद वह खुद ससुराल पहुंच गईं थी।

घर पर पहुंची तो दरवाजे पर ताला लटक रहा था। जिस पर हसीन ने डिडौली पुलिस पर शमी के परिजनों से मिलीभगत का आरोप लगाकर हंगामा किया था। इसके बाद हसीन करीब हफ्तेभर जोया में रही। लेकिन ससुराल के घर का ताला उनके लिए नहीं खुला। तुर्क बिरादरी की पंचायत भी हुई थी मगर कोई बात नहीं बनने पर वह कोलकाता लौट गई थी।

LIVE TV