भाजपा ने गहलोत के राष्ट्रपति की जाति को लेकर दिए विवादित बयान पर दिखाए सख्त तेवर

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने आडवाणी का सहारा लेते हुए भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है।

भाजपा

उन्होंने कहा, “मेरा ऐसा मानना है कि रामनाथ कोविंद को जातीय समीकरण बिठाने के लिए राष्ट्रपति बनाया गया और आडवाणी साहब छूट गए। उन्होंने कहा ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि गुजरात के चुनाव आ रहे थे और वे घबरा चुके थे कि हमारी सरकार गुजरात में नहीं बनने जा रही है।”

12 साल की लड़की ने अपने लिए कैसे खरीद ली BMW कार, सुनकर चौंक जायेंगे आप

भाजपा ने कहा, गहलोत मांगें माफी

इस पर भाजपा ने गहलोत से माफी मांगने के लिए कहा है। जीवीएल नरसिम्हा राव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि आज हम बहुत दुःख के साथ ये बात पूरे देश के सामने रखना चाहते हैं कि कांग्रेस पार्टी ने बहुत ही निचले स्तर पर जाकर चुनावी मर्यादा का उल्लंघन किया है। भारत के राष्ट्रपति, जो देश में सर्वोच्च पद है, उन पर भी कांग्रेस ने राजनीति करने की कोशिश की है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत देश के राष्ट्रपति जी को लेकर गलत बयानबाजी कर रहे हैं। हम चुनाव आयोग से अपील करते हैं कि गहलोत को नोटिस जारी किया जाए।

=>
LIVE TV