Sunday , January 22 2017
Breaking News

जीवन का लक्ष्य

भारत में आज तक बहुत सारे पुरुष और महापुरषों ने जन्म लिया और अपने ज्ञान दर्शन से हमें भाव विभोर किया है और जीवन जीने की सही राह दिखाई है। इन्ही महापुरषों में एक महापुरुष जो आज भी हमारे बीच में मौजूद है और हमें हर पल हर घडी अच्छाई और बुराई के बारे में बताते रहते हैं। वो और कोई नहीं हमारे बाबा रामदेव जी हैं जिन्होंने अपने ज्ञान और विचारों से हमे जीवन जीने की सही राह दिखाई है। बाबा रामदेव के विचार लोगों का सही मार्गदर्शन करने में मददगार हैं।

बाबा रामदेव के विचार

बाबा रामदेव के विचार

बाबा रामदेव के विचार की यदि हम बात करें तो रामदेव जी का कहना है कि जीवन भगवान की सबसे बडी सौगात है। और प्रत्येक मनुष्य का जन्म हमारे लिए भगवान का सबसे बडा उपहार है।

उनका कहना है की यदि हम जीवन को बिना किसी उद्देश्य के या छोटी-छोटी चीजों की पूर्ती के लिए जीते है तो उसका कोई महत्व नहीं है। ऐसा जीवन जीना जीवन का अपमान है।

यदि हम अपनी आन्तरिक क्षमताओं का पूरा उपयोग करें तो हम पुरुष से महापुरुष, युगपुरुष, मानव से महामानव बन सकते हैं। उनका कहना है कि “मैं मानता हूँ कि मैं परमात्मा का प्रतिनिधि हूँ।

माँ भारती का अम्रतपुत्र हूँ, प्रत्येक जीव की आत्मा में मेरा परमात्मा विराजमान है। मैं पहले माँ भारती का पुत्र हूँ बाद में सन्यासी, ग्रहस्थी, नेता अभिनेता, कर्मचारी, अधिकारी या व्यापारी हूँ।

मेरा यह जीवन राष्ट्र के लिए है। मैं सदा प्रभु में हूँ, मेरा प्रभु सदा मुझमें है। मैं सौभाग्यशाली हूँ कि मैंने इस पवित्र भूमि व देश में जन्म लिया है। मैं अपने जीवन पुष्प से माँ भारती की आराधना करुँगा।

बाबा रामदेव के विचार में इन्ही विचारों के साथ वो प्रत्येक मनुष्य को जीवन जीने का उपदेश देते है। उनका कहना है कि जीवन को अगर एक लक्ष्य मान के जीवन का हम सदुपयोग कर सकते है। तो इस प्रकार सही जीवन शैली अपनाने से प्रत्येक मनुष्य किसी भी प्रकार के लक्ष्य की प्राप्ति कर सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

LIVE TV