पुलिस की गोलियों से बचते हुए कुछ इस तरह से फरार हुआ था विकास दुबे!

कानपुर में हुए शूटआउट और 8 पुलिसकर्मियों के शहीद होने के बाद गैंगस्टर विकास दुबे किस तरह से बिकरू गांव से फरार हुआ इसको लेकर अभी भी संसय बरकरार है। हालांकि इस बीच कुछ मीडिया रिपोर्टस में यह दावा किया गया है कि विकास दुबे पुलिस की गोलियों से बचते हुए बिकरू गांव से फरार हुआ था। इसके बाद तकरीबन 5 किलोमीटर का सफर साइकिल से तय करने के बाद वह शिवली कस्बे तक पहुंचा। शिवली पहुंचने के बाद विकास दुबे ने बाइक ली और वहां से फरार होने में कामयाब रहा।

दावा यह भी किया जा रहा है कि विकास ने 8 पुलिसवालों की हत्या के बाद इसी गांव में पहुंचकर अपना मोबाइल बंद किया था। इसी के बाद वह बाइक से लखनऊ की ओर फरार हुआ। जिस वक्त विकास बिकरू से लखनऊ का सफर तय कर रहा था उसी वक्त उसकी पत्नी भी लखनऊ से फरार हुई थी। पुलिस को उसके मोबाईल की आखिरी लोकेशन चंदौली की मिली है।

विकास के फरीदाबाद में एक होटल में कमरा लेने पहुंचने की बात भी सामने आ रही हैं। वहीं इसको लेकर एक सीसीटीवी भी सामने आया है। जिसके बाद यह दावा किया जा रहा है कि आईडी न होने के चलते ही उसे होटल में कमरा नहीं मिला। वहीं एसटीएफ जब तक होटल तक पहुंचती तब तक विकास वहां से निकल गया था। हालांकि एसटीएफ ने फरीदाबाद से ही उसके दो करीबियों को हिरासत में लिया है। जिनसे पूछताछ हो रही है औऱ एसटीएफ ने उन्हें कोर्ट में भी पेश कर दिया है।

=>
LIVE TV