पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस के मौके पर भाषण के दौरान PM इमरान खान ने दी जंग की धमकी !

पाकिस्तान : 14 अगस्त यानी पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान का स्वतंत्रता दिवस | इस मौके पर पाक PM इमरान खान ने अपने देश को संबोधित किया और काफी कुछ कहा | इस काफी कुछ में PM साहब जंग का ऐलान तक कर गए| उन्होंने ऐसा क्या कहा देखिये आगे |-

अपने देश के स्वतंत्रता दिवस के मौके पर कहा कि कश्मीर में भारत ने संयुक्त राष्ट्र के नियमों को तोड़ा है और वह इस बारे में दुनिया को बताएंगे | इसके साथ ही इमरान ने यहां जंग की धमकी तक दे डाली |

पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (PoK) की विधानसभा में भाषण के दौरान अंत में इमरान खान एक बार फिर पुरानी बातों को दोहराते नजर आए|

अब इतना सब कह गए PM साहब ये तो अब ठीक था लेकिन जंग ? क्या सावन में मिलने वाली भांग तो नहीं खाकर बैठे हैं PM साहब …

इमरान खान ने इसके आगे कहा कि अब पाकिस्तान कश्मीर के मसले को दुनिया के हर फोरम पर ले जाएगा | साथ ही अगर जरूरत पड़ी तो हम अंतरराष्ट्रीय कोर्ट भी जाएंगे |

आने वाले समय में लंदन में इसको लेकर बड़ी रैली भी निकलेगी, इन सबके बावजूद PM साहब बोले अभी संयुक्त राष्ट्र की महासभा होनी है जहां पर भी पाकिस्तान की तरफ से इसका विरोध किया जाएगा |

 

‘ओवैसी और राहुल जैसे नेता तोड़ रहे देश को’ : जीवीएल नरसिम्हा राव

 

इस भाषण में PM इमरान खान ने काफी कुछ कहा पहले आप देख लीजिये क्या कहा- अंत में कहा कि जब हमारी सरकार बनी तो हम शांति की ओर बढ़ना चाहते थे | क्योंकि हमारे दोनों मुल्कों की मुश्किलें एक हैं | इमरान ने इस दौरान क्लाइमेट चेंज, गरीबी, रोजगार के मसलों का जिक्र किया |

अब ज़िक्र तो हर चीज़ का हुआ और दोनों देशों यानी भारत और पाक का भी हुआ | लेकिन PM साहब एक चीज़ का ज़िक्र करना भूल गए | वो है –“आतंकवाद” !

और आतंकवाद तो सिर्फ भारत की परेशानी है क्योंकि PM साहब तो अपने देश में इनको दामाद की तरह पाल रहे हैं |

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कहा कि हम लोगों ने दोस्ती के लिए एक कदम के बदले तीन कदम बढ़ाने की बात कही थी, लेकिन इस पर कोई अमल नहीं हो सका |

वैसे पाक इस मुद्दे पर कईयों से मदद मांग चुका है और मिला सिर्फ ठेंगा है ! क्योंकि  चीन जैसे देशों ने पाकिस्तान की मदद करने से इनकार कर दिया है, साथ ही इस मसले को भारत का अंदरूनी मामला बताया है |

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप जो कश्मीर मसले पर मध्यस्थता की बात कही थी, वह भी अब अपने दावे से पीछे हट गए हैं | अमेरिका की ओर से सफाई दी गई थी कि कश्मीर का मामला भारत-पाकिस्तान के बीच का द्विपक्षीय मसला है |

अब इन सब मामलों से तो यही झलकता है की PM साहब की हालात टाइट है और अगर वो जंग चाहते हैं तो भारत जंग से ही कश्मीर लेकर आयेगा |

 

=>
LIVE TV