पत्नी के नाम पर इस सरकारी स्कीम में करिए निवेश, मिलेंगे 50 लाख

सरकारी स्कीमनई दिल्ली : आजकल की भाग दौड़ भरी जिंदगी और महंगाई के इस दौर में पैसा बचाना बहुत ही मुश्किल है. हर कोई इस समस्या से जूझ रहा है. किसी से भी मिलो और उसकी सबसे बड़ी परेशानी पूछो तो वो पैसे का ही रोना रोता है. ऐसे में पब्लिक प्राविडेंट फंड (PPF) अकाउंट का विकल्प आपके अच्छे दिन ला सकता है.

सरकारी स्कीम लाएगी अच्छे दिन

ये विकल्प आपकी फ्यूचर प्लानिंग के लिए बहुत ही बेहतर है. और इसमें धोखाधड़ी भी नहीं के बराबर होती है. इस अकाउंट को हाउस वाइफ के साथ-साथ नौकरी पेशा महिलाओं के लिए भी खुलवाया जा सकता है. ये सबसे सुरक्षित निवेश माना जाता है और इसमें रिटर्न भी गारंटी के साथ मिलता है.

इस अकाउंट में साल भर में अधिकतम डेढ़ लाख रूपए तक जमा कराए जा सकते हैं. इसके मैच्योर होने की लिमिट 15 साल होती है. फिलहाल पीपीएफ अकाउंट पर सालाना 7.8 प्रतिशत रिटर्न मिल रहा है. डेढ़ लाख रूपए प्रतिवर्ष के हिसाब से देखें तो इस अवधि के पूरा होते ही आपको लगभग 50 लाख रुपए का फंड मिलेगा.

यह भी पढ़ें : Confirmed : सरकार ने बढ़ाई आधार लिंक कराने की समय सीमा

अच्छी बात यह है कि सरकार की तरफ से पीपीएफ स्‍कीम के इंटरेस्‍ट रेट की हर तीन माह पर समीक्षा की जाती है. ऐसे में 15 साल बाद आपको 50 लाख रूपए से ज्यादा भी मिल सकते हैं.

पीपीएफ अकाउंट को ज्वाइंट अकाउंट के साथ नहीं खोला जा सकता. इस खाते को चालू रखने के लिए आप न्‍यूनतम 500 रुपए सालाना का प्लान ले सकते हैं. ये अकाउंट नाबालि‍गों के लिए भी खोला जा सकता है. ऐसी दशा में अकाउंट में न्‍यूनतम 100 रुपए सालान जमा किए जा सकते हैं.

यह भी पढ़ें : डिजिटल इंडिया को मिला RBI का साथ, डेबिट कार्ड ट्रांजैक्शन पर नहीं कटेगा कोई चार्ज !

इस अकाउंट की सबसे अच्छी बात ये होती है कि इसमें जमा की गई रकम पर मिलने वाला ब्याज टैक्स फ्री होता है. इसका सीधा मतलब ये है कि यदि आपने इस खाते में चालू वित्तीय वर्ष में न्यूनतम कंट्रीब्यूशन नहीं किया है तो आपको हर साल के हिसाब से 50 रुपए का जुर्माना देना होगा. पीपीएफ अकाउंट में कंट्रीब्यूशन का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि इसमें जमा की गई रकम पर मिलने वाला ब्याज टैक्स फ्री होता है. यानी आपको अकाउंट मैच्योर होने पर जो राशि मिलती है उस पर आपको कोई टैक्स नहीं देना होगा.

=>
LIVE TV