लखनऊ के नवाबों को अब नवाबों की तरह खाना पहुंचायेगा Zomato, जल्द ही शुरू होगी ये सेवा

लखनऊ। राजधानी लखनऊ की ट्रेफिक को देखते हुए Zomato एक नई सेवा की शुरूआत करने जा रहा है। बता दें ऑनलाइन फ़ूड प्रदाता कंपनी Zomato नए स्टार्टअप के लिए दिन रात काम कर रही है। अब Zomato नये तरीके से खाना पहुंचाएगा। इस नए तकनीक से ग्राहकों को तय समय से और भी जल्दी खाना उपलब्ध हो जायगा और ट्रैफिक समस्याओं से भी निजाद मिलेगी।

ज़ोमैटो के सीईओ दीपिंदर गोयल ने कहा कि कंपनी भविष्य के लिए कदम उठा रही है। कंपनी हाईब्रिड मल्टी-रोटोर ड्रोन्स का एक हब-टू-हब डिलिवरी नेटवर्क बना रही है। गोयल ने कहा, ज़ोमैटो मील डिलीवरी समय को कम करने के लिए ‘टेक ईगल’ के डिजान के साथ ड्रोन डिलीवरी सर्किट स्थापित करने पर काम कर रही है। हालांकि, दोनों कंपनियों ने यह जानकारी नहीं दी है कि यह डील कितने रुपए में हुई है।

आईआईटी कानपुर से पढ़कर आए विक्रम सिंह मीणा नामक एक युवक ने अपने 7 अन्य दोस्तों के साथ मिलकर 2015 ‘टेक ईगल’ नामक स्टार्टअप शुरू किया था। जिसमें 5 किलो तक का भार ले जाने में सक्षम कस्टम ड्रोन पर ध्यान केंद्रित किया गया है।

टेक ईगल पहले से ही ड्रोन के माध्यम से रेडीमेड चाय देने पर काम कर चुका है, 23 मर्इ को बैटरी चालित, जीपीएस से लैस ड्रोन की मदद से दो लीटर चाय पहुंचाकर टेकर्इगल ने पायलट प्रोजेक्ट की शुरुआत की थी। इस ड्रोन को खास तरीके से बनाया गया है। यह 10 किमी के दायरे में लखनऊ के लोगों तक चाय के कप पहुंचाने में सक्षम है।

घर में पाई जानें वाली छोटी-बड़ी इलायची में होतें है बिल्कुल अलग-अलग गुण

ड्रोन दो किलो वजन का खाने-पीने का सामान डिलिवर करने में सक्षम है और पांच घंटे तक उड़ान भर सकता है।’ इस स्टार्टअप को केंद्र सरकार के डिपार्टमेंट ऑफ इंडस्ट्रियल प्रमोशन ऐंड पॉलिसी ने भी मान्यता दे दी है।

जियो के साथ जुड़ा Meizu, मार्केट में उतारे तीन नए शानदार हैंडसेट

बता दे ज़ोमाटो इस वक्त भारत में हर महीने 2.2 करोड़ ऑर्डर की डिलिवरी करता है। कंपनी इन नंबरों में विस्तार के प्रयास में है। कंपनी का दावा है कि उसके प्लेटफॉर्म से 1.5 लाख डिलिवरी पार्टनर्स जुड़े हुए हैं।

=>
LIVE TV