जेआईटी रिपोर्ट में पठानकोट हमले को कहा गया ‘भारत का ड्रामा’

pak-jit_landscape_1459826063एजेन्सी/पठानकोट हमले की जांच के लिए पाकिस्तान जेआईटी (ज्वाइंट इन्वेस्टिगेशन टीम) को भारत आने देने का दांव उल्टा पड़ता नजर आ रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पठानकोट हमले को लेकर पाक जेआईटी की तरफ से बनाई गई रिपोर्ट में भारत को ही गलत ठहरा दिया गया है।

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि पठानकोट हमले में ऐसा कोई सबूत नहीं मिला है, जिससे यह साबित हो सके कि पठानकोट हमले में शामिल आतंकी पाकिस्तान से पठानकोट में दाखिल हुए थे। रिपोर्ट में कहा गया है कि यह सब पाकिस्तान की छवि को खराब करने की भारत की साजिश है।

जेआईटी की रिपोर्ट में यह भी आरोप लगाया गया है कि भारतीय अधिकारियों ने पाक जेआईटी के साथ सहयोग नहीं किया। साथ ही इस रिपोर्ट में इस जांच की इजाजत देने को भारत का ड्रामा करार दिया गया है।

आपको बता दें कि पठानकोट हमले में 7 जवान शहीद हुए थे। इस हमले में सभी आतंकी मारे गए थे। अब पाकिस्तान की तरफ से 7 जवानों के शहीद होने को एक ड्रामा करार दिया गया है।पाकिस्तान टुडे नाम की न्यूज वेबसाइट के अनुसार एनआईए अधिकारी तंजील अहमद की हत्या को भी पाकिस्तान भुनाने की कोशिश में लगी हुई है। जेआईटी के एक सदस्य के अनुसार एक मुस्लिम जांचकर्ता की निर्मम हत्या इस बात का सबूत है कि भारतीय अधिकारी इस मामले को दबाए रखना चाहती है। पाकिस्तान टुडे पर प्रकाशित हुई इस खबर के अनुसार पठानकोट एनकाउंटर इंडियन अथॉरिटीज द्वारा रची गई एक साजिश करार दिया है। 

पाकिस्तान के इस रवैये पर अरविंद केजरीवाल ने भी अपनी नाराजगी व्यक्त की है।

पाकिस्तान टुडे नाम की न्यूज वेबसाइट के अनुसार एनआईए अधिकारी तंजील अहमद की हत्या को भी पाकिस्तान भुनाने की कोशिश में लगी हुई है। जेआईटी के एक सदस्य के अनुसार एक मुस्लिम जांचकर्ता की निर्मम हत्या इस बात का सबूत है कि भारतीय अधिकारी इस मामले को दबाए रखना चाहती है। पाकिस्तान टुडे पर प्रकाशित हुई इस खबर के अनुसार पठानकोट एनकाउंटर इंडियन अथॉरिटीज द्वारा रची गई एक साजिश करार दिया है। 

पाकिस्तान के इस रवैये पर अरविंद केजरीवाल ने भी अपनी नाराजगी व्यक्त की है।

=>
LIVE TV