क्या बॉलीवुड इंडस्ट्री में कंगना की गिरती इमेज का कारण खुद उनकी बहन हैं?

बॉलीवुड में कंगना रनौत और उनके काम की अहमियत के लिए किसी सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है. अपनी कई फिल्मों के जरिए कंगना शानदार अदाकारी का जादू बिखेर चुकी हैं. दर्शकों का एक बड़ा तबका कंगना के काम का प्रशंसक है. उनके संघर्ष, उनकी शख्सियत और उनके मुकाम की इज्जत भी करता है. प्रशंसकों में आम लोग हैं, सेलिब्रिटी हैं, नेता हैं और पत्रकार भी हैं.

kangana ranaut

लेकिन कंगना रनौत के नाम पर सोशल मीडिया में उनकी बहन रंगोली चंदेल जिस तरह से एक्ट्रेस के लिए जिरह कर रही हैं उसका स्तर लगातार नीचे की ओर जाता दिख रहा है. कंगना के नाम पर रंगोली का ये तमाशा जाहिर तौर पर एक्ट्रेस के प्रशंसकों को अच्छा नहीं लग रहा होगा. कंगना के कई फैंस को सोशल मीडिया पर इस बात के लिए चिंता जताते देखा जा सकता है.

शाहदरा के पास मालवा ट्रांसपोर्ट पर अवैध दवाओं की सूचना पर छापा

अब सवाल है कि रंगोली चंदेल हैं कौन और ऐसा करके वो कंगना के लिए क्या हासिल कर रही हैं? कंगना रनौत खुद ट्विटर पर नहीं हैं. रंगोली चंदेल, कंगना की ऑफिशियली मैनेजर भी हैं. रंगोली के ट्व‍िटर हैंडल पर इस बात का जिक्र भी है. वैसे कंगना भी यह बात कह चुकी हैं कि ट्विटर पर उनकी बहन उनका सपोर्ट करती हैं और पक्ष रखती हैं.

 

ठीक है. रंगोली, कंगना का पक्ष रखें और बहुत मजबूती से रखें, मगर उनका लहजा सम्मानजनक और गरिमापूर्ण होना चाहिए. अगर वो सोशल मीडिया पर तमाम बातें कंगना की प्रतिनिधि के तौर पर करती हैं तो इसका मतलब यह भी है कि वो एक ऐसी एक्ट्रेस का भी प्रतिनिधित्व करती हैं देश में जिसके तमाम प्रशंसक हैं और उसे अपना आदर्श भी मानते हैं. लेकिन कंगना से जुड़े रंगोली के तमाम ट्वीटस देखें तो लगता एक्ट्रेस की बहन का बर्ताव और उनका लहजा एक लिजलिजे ट्रोल से ज्यादा नजर नहीं आता. रंगोली लगातार कंगना को लेकर इंडस्ट्री में भेदभाव, उत्पीड़न का जिक्र करती रहती हैं. सवाल भी उठाती हैं.

 

ठीक है, सोशल मीडिया में कंगना की बहन की हैसियत से रंगोली सवाल उठाए, बहसें भी करें. मगर सवाल उठाने का एक तरीका होता है. भला किसी को गाल‍ियां देते हुए, नीचा द‍िखाते हुए न्याय और हक़ की बात करना कहां तक सही है. रंगोली क्यों भूल जाती हैं कि वो कंगना रनौत की मैनेजर हैं. एक ऐसी एक्ट्रेस जिसकी सफलता से हजारों लोग प्रेर‍ित हैं. लेकिन छोटी-छोटी बात पर रंगोली चंदेल के घट‍िया तमाशे की वजह से कंगना के डाई हार्ट फैंस भी निराश हैं.

 

खनन घोटाला मामले पर एक और अधिकारी के घर पर सीबीआई का छापा

रंगोली किसी भी मह‍िला को सरेआम सस्ती कॉपी कह जाती हैं? एक फिल्मी ट्रेलर में अलग से कंगना का नाम नहीं लेने की वजह से किसी एक्टर की आलोचना करती हैं, और जब कोई माफी मांग लेता है तो उससे यह कहती नजर आती हैं कि कंगना का स्टारडम किसी का मोहताज नहीं है.

निश्चित ही रंगोली जिस तरह की भाषा ट्वीट में इस्तेमाल कर रही हैं वो बेहद अपमानजनक है. और दुर्भाग्य से रंगोली लगातार ऐसा करती जा रही हैं. एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में किसी पत्रकार से कंगना की तीखी बहस के बाद एक्ट्रेस की बहन ने जिस तरह की भाषा के साथ ट्विटर पर मोर्चा खोला हुआ है वो निराश करता है. हैरानी होती है कि पब्लिक फिगर होने के बावजूद कई बार कंगना भी इनमें शामिल होती हैं और इसे नजरअंदाज भी कर रही हैं. पत्रकार के मामले में कंगना का रवैया भी ऐसा ही है.

 

बॉलीवुड में नेपोट‍िज्म और गुटबाजी की बात करने वाली कंगना और उनकी ये कैसे भूल जाती हैं कि इंडस्ट्री में जो भी एक्टर्स हैं, हर किसी ने अपनी काब‍िल‍ियत के दम पर मुकाम पाया है. पहली फिल्म भले ही बाप-दादा के नाम पर मिली हो, लेकिन लोगों को यहां अपने टैलेंट के बूते ही जगह मिली है. बात बात पर पूरी इंडस्ट्री को गाली देना कहां तक जायज है?

हादसों को दावत देते बिजली के पोल, प्रशासन को नहीं कोई फिकर

रंगोली को यह भी याद रखना चाह‍िए कि वो कंगना रनौत की बहन है, वर्ना उनमें ऐसा कुछ नहीं कि कोई उनकी बात सुनता. एक्ट्रेस की स्वीकृति से ही सही लेकिन कंगना की बहन इन दिनों जिस तरह से सोशल मीडिया में पेश आ रही हैं वो एक्ट्रेस के लिए ही खतरनाक है.

 

कंगना ये क्यों भूल रही हैं कि समंदर में रहने के लिए हर किसी से बैर नहीं ल‍िया जाता. उन्हें लगता है कि उनके साथ इंसाफ नहीं हुआ तो कानूनी दरवाजे खुले हैं. हर रोज सोशल मीड‍िया पर कचहरी लगाकर किसी स‍ितारे को बदनाम करना, कंगना रनौत पर भी सवाल उठाता है. कंगना को भी नहीं मालूम कि बहन के रवैये से उनका क्या और कितना नुकसान हो रहा है.

=>
LIVE TV