केरल के राज्यपाल का बड़ा बयान- अपनी बात मनवाने के लिए जिद करना भी आतंकवाद

 

केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने शाहीन बाग में हो रहे धरने पर निशाना साधा है और कहा कि जो लोग सड़कों पर बैठकर अपने विचारों के दूसरों पर थूपने की प्रयास कर रहे हैं वह हबी किसी आतंकवाद से कम नहीं हैं। ऐसे हरकतों से दूसरों का जीवन प्रभावित होता है बस। राज्यपाल ने छात्र संसद में यह भी कहा कि हिंसा का कोई रूप नहीं होता है वह किसी भी तरह से बाहर आ ही जाती है।

खान ने यह भी कहा कि वह एक लोकतांत्रिक देश में रहते हैं। इससे किसी को कोई भी तरह का परेशानी नहीं होनी चाहिए। लेकिन कुछ लोग बाहर बैठ जाए और बोले के यह सब ठीक नहीं धरना करे प्रदर्शन करें तो हमे स्वीकार नहीं। यह भी आतंकवाद का साथ देने जैसा ही है।

 

=>
LIVE TV