उमा भारती ने अचानक किया राजनीति से बॉय-बॉय, राम मंदिर निर्माण और गंगा उत्थान बताई वजह

नई दिल्ली। राम मंदिर निर्माण और गंगा के उत्थान के लिए केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने बड़ी घोषणा करते हुए आगामी लोकसभा चुनाव न लड़ने का ऐलान किया है। इसके अलावा उन्होंने आने वाले डेढ़ सालों तक कोई भी चुनाव न लड़ने की घोषणा की है। राजनीति से इस तरह अचानक ब्रेक लेने की वजह बताते हुए उमा भारती ने कहा कि वो राम मंदिर निर्माण और गंगा सफाई जैसे मुद्दों पर अपना पूरा ध्यान देने के लिए ऐसा कर रही हैं।

उमा भारती से पहले विदेश मंत्री सुषमा स्वराज भी 2019 का लोकसभा चुनाव न लड़ने का ऐलान कर चुकी हैं। हालांकि इसकी वजह उन्होंने स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को बताया था।

अब नहीं करना पड़ेगा ट्रेनों का इंतजार, आपके लिए रेलवे करने जा रहा ये इंतजाम
खबरों के मुताबिक, 2019 विधानसभा चुनाव न लड़ने की घोषणा करते हुए उमा भारती ने कहा कि मैं मरते दम तक राजनीति करूंगी, लेकिन डेढ़ साल राम और गंगा के लिए करूंगी काम इसलिए मैं पार्टी से इसके लिए अनुमति मांगकर 15 जनवरी से गंगा प्रवास करूंगी। डेढ़ साल तक मैं गंगा और राम मंदिर पर फोकस करना चाहती हूं और इसीलिए मैंने फैसला किया है कि इस बार मैं लोकसभा का चुनाव नहीं लड़ूंगी।

सांसदों और विधायकों के विरुद्ध मुकदमे को मिलेगी प्राथमिकता : सुप्रीम कोर्ट

बुलन्दशहर में हुई हिंसा पर पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि ये ऐसा संकेत है जिस पर मुख्यमंत्री योगी को विचार करना होगा। इतनी बड़ी तादाद में लोग जुड़े थे और किसी को कानो कान खबर नहीं हुई। रहस्यलोक बना लिया था। सीएम योगी को ध्यान रखना चाहिए। यह घटना बहुत दुःखद है और चिंताजनक है। अगर इस पर उनकी नजर होती तो ये घटना नहीं होती।

=>
LIVE TV