ईरान में तनाव का नतीजा भुगतेगा भारत, कच्चे तेल के दाम बढ़ने से बढ़ेगा जीडीपी पर बोझ

हाल ही में अमेरिकी हवाई हमले में मारे गए ईरानी जनरल सुलेमानी की मौत के बाद ईरान में तनाव बढ़ना लाजमी है. अब ऐसी स्थिति में सबको पता है ईरान एक बड़ा तेल निर्यातक देश है ऐसे में दुनिया के लगभग सभी देशों में इसका असर पड़ेगा.

सूत्रों की मानें तो ईरान में तनाव बढ़ते ही कच्चे तेल के दाम बढ़ने वाले हैं. अगर ऐसा होता है तो भारतीय अर्थव्यवस्था जो पहले ही पस्त है, उस पर और बोझ बढ़ने वाला है.

पेट्रोल के दाम

भारतीय अर्थव्यवथा पर बढ़ेगा बोझ-

ईरान में जनरल सुलेमानी की अमेरिकी हवाई हमले में मौत के बाद तनाव के चलते जल्द ही पूरी दुनिया में कच्चे तेल के दाम बढ़ने वाले हैं. अभी से ही कच्चे तेल की कीमतों में उछाल देखने को मिल रहा है.

अगले सप्ताह से मिलेगी प्याज की महंगाई से निजात, कीमतों में जल्द आएगी गिरावट

ये सबको पता है कि भारत कच्चे तेल की कुल खपत का 84 प्रतिशत विदेशी बाजारों से खरीदता है. ऐसे में दाम बढ़ते ही पहले से ही पस्त भारतीय अर्थव्यवस्था और ज्यादा बिगड़ सकती है.  जिससे भारत का आयात बिल और व्यापार घाटा भी बढ़ेगा.

=>
LIVE TV