आगरा के बरहन में छेड़छाड़ से परेशान होकर पढ़ाई छोड़ रहीं बच्चियां, प्रशासन नहीं ले रहा सुध

REPORT:-NAGENDRA TYAGI/AGRA

आगरा में मनचलों के हौसले कितने बुलंद हैं इस बात का अंदाजा आप इससे ही लगा सकते हैं कि मनचलों की छेड़खानी से परेशान होकर तीन छात्राएं अपनी पढ़ाई छोड़ चुकी हैं, सूबे की सरकार द्वारा गठित की गई एंटी रोमियो टीम और पुलिस की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठ रहे हैं.

दरअसल पूरा मामला आगरा थाना बरहन के अंतर्गत एक गांव का है यहां पर मनचलों की छेड़छाड़ से परेशान छात्राएं मनचलों की छेड़छाड़ से परेशान होकर अपनी पढ़ाई छोड़ चुकी हैं.

छेड़खानी

छात्राओं का कहना है कि मनचले उन्हें रास्ते में परेशान करते हैं, उससे तंग आकर उन्होंने पढ़ाई छोड़ दी जब इसकी शिकायत उन्होंने पुलिस में की और मनचलों को पकड़कर पुलिस के हवाले करवा दिया बावजूद उसके आवल खेड़ा चौकी से उन्हें बिना कार्यवाही कि छोड़ दिया गया.

जबकि पुलिस का कहना है अभी इस पूरे मामले में नहीं कोई तहरीर आई है और ना ही कोई गिरफ्तारी हुई है. लेकिन सबसे बड़ा सवाल यह है सूबे की सरकार द्वारा तैनात की गई एंटी रोमियो स्क्वाड की टीम आखिर उस वक्त कहां रहती है.

अमेठी डीएम अरुण कुमार ने नवनिर्मित ट्रामा सेंटर के कार्य को जल्द पूरा करने का दिया आदेश

जब छात्राओं के साथ मनचले छेड़छाड़ करते हैं और उन्हें पढ़ाई छोड़ने के लिए मजबूर कर देते हैं. इस बात से सवाल उठना लाजमी है कि आखिर इस तरह से चलता रहा तो कैसे पढ़ेगी बेटियां और कैसे आगे बढ़ेंगी बेटियां.

इस पूरे मामले पर एसपी देहात रवि कुमार का कहना है के थाना प्रभारी बरहन को कड़ी कार्यवाही के लिए आदेशित कर दिया गया है जल्द ही आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होंगे. सबसे बड़ा सवाल यह है कि आखिर सरकार की मंशा पर पलीता कौन लगा रहा है.पुलिस की और एंटी रोमियो स्क्वाड की तमाम दावों के बाद आखिर इस तरह की खबरें सामने क्यों आती हैं.

=>
LIVE TV