अजान के बीच मोदी का भाषण रोक देना, क्या वोट की राजनीति थी?

modiji_56f857d675242एजेन्सी/खड़गपुर। लोग इसे वोट की राजनीति कहें या फिर कुछ और। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसकी परवाह किए बगैर सभी धर्मों को सम्मान कैसे दिया जाता है, यह सिद्ध कर दिया। मोदी जी जिस सभा को संबोधित कर रहे थे, वहां से कुछ ही दूरी पर मस्जिद में अजान शुरु हो गया, तभी मोदी जो कि उस दौरान अपने भाषण के पूरे प्रवाह पर थे, ने अपना भाषण रोक दिया। तृणमूल कांग्रेस और माकपा-कांग्रेस गठबंधन पर प्रहार करते हुए मोदी के रुक जाने को लोग मुसलमानों के प्रति वोट की राजनीति करार दे रहे है। बीएनआर मैदान में हो रही सभा में अजान खत्म होते ही मोदी ने कहा यह हमारी परंपरा है, हमें सभी धर्मों का सम्मान करना चाहिए। अपने साथ-साथ दूसरों के रीति-रिवाजों व परंपराओं का भी पालन करना चाहिए। पीएम ने कहा हमारे अंदर सम्मान की भावना होनी चाहिए ताकि भारत में एकता बनी रहे। इसके बाद भी मोदी ने 20 मिनट तक भाषम दिया। अफताब, फिरदौस, इम्तियाज अली और आमिर खान ने इसके लिए मोदी की तारीफ की।

=>
LIVE TV