Thursday , November 15 2018

राज्यपाल ने किया योगी का समर्थन, अखिलेश को बताया ‘मनमौजी’

रिपोर्ट- शशांक दीक्षित

कानपुर। राजनीति की बातों से हमेशा दूर रहने वाले उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने बीजेपी सरकार की तारीफ़ करते हुए कहा की पिछली सरकार की तुलना में योगी सरकार अच्छा काम कर रही है। पिछली सरकार को लिखे गए पत्र से ज्यादा इस सरकार को पत्र लिखे गए है और यह सरकार उनकी कही गयी बातो को तवज्जो दे रही है। राज्यपाल राम नाईक कानपुर के सीएसए में आयोजित जाणता राजा महाकाव्य नाटक का मंचन देखने पहुंचे थे।

राम नाईक

कानपुर चंद्रशेखर आजाद कृषि विश्वविधालय में शिवाजी के जीवन पर आधारित महाकाव्य नाटक जाणता राजा का मंचन किया जा रहा है। इस महाकाव्य का मंचन देखने पहुंचे उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने तारीफ़ की।

राज्यपाल से जब राजनीति के सवाल किये गए तो उन्होंने कहा की अखिलेश यादव जी व योगी आदित्यनाथ जी मेरे ही मुख्यमंत्री है। जनता से मेरे पास जो शिकायते व सुझाव आते है वो उनके पास पहुंचाता रहता हूँ और उनको अवश्यकता के अनुसार उनको सलाह भी देता रहता हूँ।

जितने पत्र अखिलेश यादव जी को लिखा होगा उससे डेढ़ गुना ज्यादा पत्र उससे कम समय में उनको लिखे है और इस बात की ख़ुशी है कि कई ऐसे पत्र जो मुख्यमंत्री योगी जी को लिखे उसमे से कई पर कार्यवाही हो रही है।

राज्यपाल ने उदहारण के तौर पर बताया की उत्तर प्रदेश का स्थापना दिवस नहीं मनाया जाता था तब अखिलेश यादव जो को पत्र लिखा की 21 राज्यों में स्थापना दिवस है लेकिन उत्तर प्रदेश में नहीं है।

BJP अध्यक्ष ने कर दिया चुनाव का आगाज़, कैबिनेट में दिख सकते हैं कई नए चेहरे!

अखिलेश यादव जी ने यह सुझाव नहीं माना लेकिन योगी आदित्यनाथ जी ने माना और उन्होंने उत्तर प्रदेश का स्थापना दिवस मनाया। कई सालो पहले प्रयागराज का नाम बदलकर इलाहाबाद कर दिया गया। अब इलाहाबाद के बदले में जो मूल नाम है वो देना चाहिए यह सुझाव सरकार को दिया था।

इलाहाबाद  प्रयागराज होना चाहिये यह सुझाव योगी आदित्यनाथ जी को दिया था और उन्होंने इसको स्वीकार किया। किसी काम की तुलना करना अच्छा नहीं है लेकिन जो हो रहा है वह पहले से अधिक अच्छा है।

=>
LIVE TV