फैशन वास्तविक जीवन नहीं है : सुपरमॉडल क्लाउडिया शिफर

सुपरमॉडल क्लाउडिया शिफरलंदन। सुपरमॉडल क्लाउडिया शिफर कहती हैं कि फैशन उद्योग ‘वास्तविक जीवन’ नहीं है। हालांकि इसका हिस्सा बनना शानदार हो सकता है लेकिन यह दुनिया का सही प्रतिबिंब नहीं है। ‘फिमेलफर्स्ट डॉट को डॉट यूके’ के अनुसार, 47 वर्षीय सुपरमॉडल को सबसे पहले 17 की उम्र में मेट्रोपॉलिटन मॉडल एजेंसी ने अपने साथ जोड़ा था। वह खुद को एक यथार्थवादी व्यक्ति बताती हैं।

‘वोग डॉट कॉम’ को शिफर ने बताया, “मैं काफी तर्कसंगत और यथार्थवादी व्यक्ति हूं और कई वर्षों से मैंने सीखा है कि फैशन के क्षण अद्भुत हैं लेकिन ये वास्तविक जीवन नहीं हैं।”

शिफर ने कहा कि वह कंपनियों के साथ सिर्फ उन परियोजानाओं पर काम करती हैं, जिन्हें वह पसंद करती हैं, इसलिए वह फैशन की दुनिया में अंदर-बाहर होती रहती हैं।

डेंगू मरीजों की सेहत से खिलवाड़, झोलाछाप डॉक्टर दे रहे एंटी बायोटिक दवांए

संजय दत्त की ‘धमकी’ ताक पर ऱख बेटी ने शेयर की स्मोकी हॉट तस्वीरें

=>
LIVE TV