क्रिकेट के बाद राजनीति में भी मार लिया मैदान, प्रधानमंत्री कार्यालय ने किया धन्यवाद

नई दिल्ली। भारत रत्न सचिन तेंदुलकर ने दरियादिली दिखाते हुए अपने राजनीति के शुरूआती करियर में कमाए सभी पैसों को प्रधानमंत्री राहत कोष में जमा किया है। गरीब घर के बच्चों के बेहतर शिक्षा व्यवस्था और उनके विकास के लिए उन्होंने अपनी पूरी सैलरी दान की है।

सचिन तेंदुलकर

क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन ने अपने राजनीतिक जीवन का ज्यादातर हिस्सा एक सामाजिक व्यक्ति के रूप में निभाया है। यूपीए सरकार ने सचिन को राज्यसभा में सांसद बनाकर भेजा था। उन्होंने बतौर सांसद कभी किसी की आलोचना नहीं की।

ऐसे में जब सचिन ने पूरे 90 लाख रुपये भारत सरकार को दे दिए तो प्रधानमंत्री कार्यालय ने भी उनका आभार पत्र जारी करते हुए धन्यवाद दिया है। साथ ही प्रधानमंत्री कार्यालय ने उनके इस सहृदयता के लिए आभार व्यक्त करते हुए लिखा है कि संकटग्रस्त लोगों को सहायता पहुंचाने में सचिन का यह दान बहुत मददगार होगा।

यह भी पढ़ें:- मोदी सरकार के खिलाफ कट्टर हिंदू नेता ने किया बड़ा खुलासा, जानकर जमीन खिसक जाएगी

गौरतलब है कि उन्होंने देश भर में 185 परियोजनाओं को मंजूरी देने तथा उन्हें आवंटित 30 करोड़ में से 7.4 करोड़ शिक्षा और ढांचागत विकास के लिए संसद में परस्पर साथ दिया।

यह भी पढ़ें:- हिंसा मामले में 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया केंद्रीय मंत्री का बेटा

साथ ही सांसद आदर्श ग्राम योजना कार्यक्रम के तहत सचिन ने दो गांवों को गोद भी लिया है। इनमें आंध्र प्रदेश का पुत्तम राजू केंद्रिगा और महाराष्ट्र का दोंजा गांव शामिल है।

देखें वीडियो:-

=>
LIVE TV