Monday , September 24 2018

कठुआ मामला : मुख्य आरोपी की बेटी चीख-चीख कर बोली ‘षड्यंत्र है गैंगरेप-पिता हैं निर्दोष’

नई दिल्ली। कठुआ गैंगरेप और हत्या मामले की पहली सुनवाई सोमवार यानी 16 अप्रैल को हुई। इस दौरान कोर्ट में मुख्य आरोपी संजी राम समेत सभी आठ आरोपियों को पेश किया गया। जिस दौरान मामले की सुनावाई हो रही थी और वकील अपनी-अपनी दलीले पेश कर रहे थे। ऐसे में एक नजारा कोर्ट के बाहर नज़र आया। वो था न्याय के मंदिर के बाहर संजी राम की बेटी का अपने पिता को चीख-चीख कर बेकसूर ठहराना।

यह भी पढ़ें : मक्का मस्जिद ब्लास्ट मामले में आ गया फैसला, असीमानंद समेत सभी आरोपी बरी

कठुआ गैंगरेप

खबरों के मुताबिक़ अदालत के बाहर मुख्य आरोपी संजी राम की बेटी इस पूरे मामले को षड्यंत्र बताते हुए जोर-जोर से चीख रही थी। इस पूरे मामले को एक समाचार चैनल के कैमरे ने कैद कर लिया। वीडियो को सोशल मीडिया पर ट्वीट किया गया।

ट्वीट किया गया ये वीडियो करीब 19 सेकेंड का है। वीडियो में संजी राम के बेटी किसी हुसैन का नाम लेते हुए चीख रही है- “हुसैन का बनाया हुआ षड़यंत्र है, इस षड़यंत्र को पूरी दुनिया जानें, वो बच्ची किसी हिन्दू-मुसलमान की नहीं है, उस बच्ची का कोई रेप नहीं हुआ, मर्डर हुआ है, उस मर्डर की छानबीन सीबीआई करे, तब ये केस हल होगा, अन्यथा निर्दोष ही फसेंगे।”

यह भी पढ़ें : कठुआ गैंगरेप मामले में आज से सुनवाई, आसिफा के वकील ने जताई रेप और मर्डर की आशंका

वहीं आरोपियों के वकील अंकुर शर्मा ने मीडिया को बताया कि अदालत ने सभी आरोपियों को चार्जशीट मुहैया कराने का निर्देश दिया है। अदालत ने नार्को टेस्ट को भी हरी झंडी दी है और मामले की अगली सुनवाई 28 अप्रैल को होगी।

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू एवं कश्मीर में नाबागिक बच्ची के साथ दुष्कर्म और उसकी हत्या तथा उत्तर प्रदेश में दुष्कर्म की घटना पर पहली बार शुक्रवार को कहा कि ऐसी घटनाओं से देश शर्मसार हुआ है। उन्होंने भरोसा दिलाया कि दोनों मामलों में न्याय होगा और दोषी बच नहीं पाएंगे।

जम्मू एवं कश्मीर के कठुआ और उत्तर प्रदेश के उन्नाव की घटनाओं पर मचे बवाल के बाद मोदी ने कहा, “देश में जिन घटनाओं पर पिछले दो दिनों से चर्चा हो रही है, वे सभ्य देश के लिए अच्छा नहीं हैं। यह शर्मनाक है।”

उन्होंने कहा, “देश या राज्य के किसी भी हिस्से में ऐसी घटनाएं मानवता को उद्वेलित करती हैं। मैं देश को भरोसा दिलाना चाहता हूं कि कोई दोषी बच नहीं पाएगा। इंसाफ होगा। पूर्ण रूपेण न्याय होगा। बेटियों को इंसाफ मिलेगा। हमें साथ मिलकर इस बुराई को समाज से समाप्त करना होगा।”

कठुआ के रसाना जंगल में घोड़ों को चराते समय आठ साल की एक बच्ची लापता हो गई थी। एक सप्ताह बाद दुष्कर्म के बुरे हालात में उसका शव बरामद हुआ था। जांच में पता चला कि उसे एक मंदिर में बंदी बनाकर रखा गया और नशीली दवा पिलाकर उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया गया और आखिर में उसकी हत्या कर दी गई।

देखें वीडियो :-

=>
LIVE TV