कर्नाटक निकाय चुनाव: हार के बाद भाजपा ने कहा कुछ ऐसा जोकि कार्यकर्ता तक को नहीं होगा हजम!

बेंगलुरू। कर्नाटक के सभी 22 जिलों में हुए स्थानीय निकाय चुनावों में मिली हार के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने सत्तारूढ़ जनता दल (सेकुलर) और कांग्रेस के गठबंधन को जिम्मेदार ठहराया है।

भाजपा

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बी.एस. येदियुरप्पा ने यहां संवाददाताओं को बताया, “भाजपा को और सीटें जीतनी चाहिए थीं, लेकिन कांग्रेस-जद(एस) गठबंधन के कारण हम मनचाहे प्रदर्शन नहीं कर सके।”

उन्होंने कहा, “हालांकि पार्टी 2019 लोकसभा चुनाव में बहुमत लाने के लिए आश्वस्त है।” उन्होंने कहा, “जनादेश भाजपा के साथ है और हम अगले साल होने वाले आम चुनाव के लिए आश्वस्त हैं।”

राज्य में 31 अगस्त को हुए निकाय चुनाव में भाजपा तटीय जिलों उडुपी और दक्षिण कन्नड़ सहित सात जिलों में बहुमत के साथ 929 सीटों पर विजयी रही, वहीं कांग्रेस ने राज्य के उत्तरी भाग के 10 जिलों में बहुमत के साथ 982 सीटें जीतीं।

यह भी पढ़ें:- चुनाव से पहले ही कांग्रेस ने इस मसले पर रख दी अपनी राय, जानें…

निकाय चुनाव के परिणाम बताते हैं कि भाजपा ने अपने पारंपरिक गढ़ तटीय जिलों में बेहतर प्रदर्शन किया है, जबकि कांग्रेस ने उत्तरी जिलों पर अपनी पकड़ बरकरार रखी है।

यह भी पढ़ें:- शशि थरूर के तीखे बोल, कहा- असहमति जताने वालों का मुंह बंद कर रही सरकार

वहीं दूसरी तरफ, गठबंधन सरकार में साझेदार जद (एस) ने हासन, मांड्या और तुमकुरु जिलों में बहुमत हासिल करते हुए 375 सीटें हासिल कीं।

देखें वीडियो:-

=>
LIVE TV