विपक्ष के दावे को भाजपा ने किया कन्फर्म, EVM मतलब ‘Each Vote to Modi’

नई दिल्ली। साल 2014 लोकसभा चुनाव के बाद से भाजपा का परचम जो लहराया तो अब तक उसका दबदबा कायम है। आलम यह हुआ एक के बाद एक किला फतह करते हुए देश के 21 राज्यों में भगवा लहराया। भाजपा का हर एक प्रतिनिधि इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बखान करता है। भाजपा के इस प्रताप से भगवा लहर और मोदी लहर जैसे अदभुत शब्दों की उत्पत्ति हुई, जिनका जिक्र अक्सर भाजापाइयों द्वारा किया जाता है। लेकिन कहीं न कहीं विपक्ष में लगातार होने वाली भाजपा की जीत ने एक संशय पैदा किया। सभी विपक्षी दलों ने चुनाव आयोग को निशाने पर लेते हुए मतदान के लिए इस्तेमाल होने वाली वोटिंग मशीनों को इसका जिम्मेदार ठहरा दिया।

अपनी ही पिच पर क्लीन बोल्ड हुए केजरीवाल! मिशन 2019 पर एक कदम आगे हुई भाजपा

भाजपा का परचम

हालांकि चुनाव आयोग ने इस बात को एक सिरे से खारिज किया कि ईवीएम मशीनों में किसी भी तरह की छेड़छाड़ की जा सकती हैं।

वहीं विपक्षियों ने भी चुनाव आयोग के खिलाफ जाकर अपनी आवाज बुलंद की, लेकिन हाथ कुछ न लगा। फिर भी शोर शराबे के बीच सभी की तसल्ली के लिए हल ये निकाला गया कि अब चुनाव में ईवीएम के साथ वीवीपैट मशीन का इस्तेमाल किया जाएगा। ताकि विपरीत परिस्थियों में पर्चियों के माध्यम से भी मतों की गिनती कर सभी को तसल्ली दिलाई जा सके। वहीं अब गुजरात में विजय रुपानी सरकार के गृहमंत्री प्रदीप सिंह जडेजा के बयान ने शक की सुई वापस उसी दिशा में घुमा दी है।

हालांकि उन्होंने यह कथन उस मंतव्य से नहीं बोला लेकिन कहीं न कहीं पुरानी फांस का दर्द तो जगा ही दिया है।

प्रधानमंत्री ने शुरू किया अभियान, 2025 तक TB मुक्त होगा भारत

खबरों के मुताबिक़ गुजरात में प्रदीप सिंह जडेजा ने ईवीएम का एक नया मतलब बताया है। बीजेपी मंत्री ने ने कहा है कि ईवीएम मतलब होता है – Each Vote to Modi.

प्रदीप सिंह जडेजा ने ये भी कहा कि गुजरात की जनता ईवीएम के इस मतलब को जानती है और इसीलिए उन्होंने बीजेपी को वोट दिया। प्रदीप सिंह जडेजा ने ये विवादास्पद बयान सोमवार को गुजरात विधानसभा के अंदर दिया है।

इससे पहले ईवीएम को पिछले साल उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री भी इसी तरह का एक बयान दे चुके हैं। तब योगी आदित्य नाथ ने कहा था कि ईवीएम का मतलब Every Vote Modi होता है। अब गुजरात के गृहमंत्री ने भी इसी तरह का बयान देते हुए ईवीएम का मतलब Each Vote to Modi बताया है।

दरअसल सोमवार को विधानसभा में सूचना और प्रसारण विभाग की 126 करोड़ रुपए की बजटीय मांगों को लेकर अपना पक्ष रख रहे थे।

इस दौरान जडेजा ने कहा कि, ‘गुजरात को नंबर एक बनाने में सूचना विभाग का बहुत बड़ा हाथ है। इस विभाग ने गुजरात को नंबर एक बनाने के लिए बहुत कुछ किया है। कलयुग में केवल अच्छा होना ही काफी नहीं है बल्कि अच्छा काम करके उसे लोगों के सामने लाना भी जरूरी है। जब तमाम लोग देश विदेशों में गुजरात को बदनाम करन में लगे थे तब सूचना विभाग सारी राजनीति के खिलाफ विकास का संदेश फैला रहा था।’

गृहमंत्री प्रदीप सिंह जडेजा ने ये भी कहा कि, ‘सूचना प्रसारण विभाग ने लोगों के बीच जागरूकता फैलाने के लिए भी काफी कुछ किया है और हम सबने उसका नतीजा भी देखा है। हालांकि ईवीएम और वीवीपैट को लेकर विपक्ष ने काफी सवाल भी उठाए मगर फिर भी विभाग लोगों के बीच जागरूकता फैलाने में कामयाब रहा। जडेजा ने एक के बाद एक विभाग की तारीफों के पुल बांधते हुए कहा कि बजट छोटा होते हुए भी सूचना विभाग ने पूरी दुनिया के सामने गुजरात की बेहतरीन ब्रांड इमेज तैयार कर दी है।’

देखें वीडियो :-

=>
LIVE TV