Thursday , October 19 2017

बेटे को रणक्षेत्र में घिरता देख बचाव में उतरे पिता, एक ही जवाब से कर दी विपक्षियों की हवा टाइट

भाजपा अध्यक्ष अमित शाहनई दिल्ली। केंद्र की राजनीति में उस समय भूचाल आ गया जब भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के बेटे की कंपनी में बेहद कम समय के भीतर टर्नओवर में वृद्धि का मसला जनता के सामने आया। इस पर विपक्ष ने सवालों की लड़ी लगा दी। इसके बाद केंद्र की तरफ से भी कई मंत्री बचाव करते देखे गए।

वहीं आज पहली बार इस मामले पर भाजपा अध्यक्ष ने सफाई दी है।

बता दें अमित शाह ने गुजरात चुनाव को लेकर आयोजित कार्यक्रम में शिरकत कर रहे थे। इस दौरान पूछे गए सवालों के जवाब में कहा कि जय शाह की कंपनी में कोई गड़बड़ी नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि जिसका प्रमाण है उनके द्वारा सौ करोड़ का मानहानि का केस किया गया है।

उन्होंने कहा कि जय ने आज आपराधिक मानहानि का केस फाइल किया है। विपक्ष जांच की मांग कर रहा है, जय ने तो स्वयं जांच मांगी है अब आपके पास जो तथ्य हैं उसे लेकर कोर्ट पहुँच जाइये। वहीं फैसला हो जाएगा।

शाह के मुताबिक मैं पहले साफ़ कर दूं कि कंपनी ने एक भी रुपये का व्यापार सरकार के साथ नहीं किया है, न ही  एक भी रूपये की मदद ली है।

शाह के मुताबिक अगर एक करोड़ की कोई कंपनी हो गई तो क्या ये कहा जाएगा कि एक करोड़ गुना टर्नओवर बढ़ गया है।

उन्होंने कहा कि ये शुद्ध रूप से कमोडिटी एक्सचेंज का व्यापार है। इसमें टर्नओवर ज्यादा होता है और मुनाफा कम होता है।

मोदी कार्यक्रम में शत्रुघ्न की एंट्री को ‘न’, बिहारी बाबू बोले- ‘मैं अछूत नहीं हूं, मैं धरतीपुत्र हूं बिहार का’   

जब कंपनी के अनसिक्योर्ड लोन, लेटर ऑफ क्रेडिट के बारे में पूछा गया कि ऐसे लोन किसी छोटी कंपनी को मिल सकते हैं अगर वो अमित शाह के बेटे की नहीं है?

इस पर अमित शाह ने कहा कि पहले तो लोन नहीं मिला है, लेटर ऑफ क्रेडिट मिला है और लेटर ऑफ क्रेडिट इस शर्त पर मिला है कि उसका सौ फीसदी देकर माल उठाना है।

साथ ही उन्होंने कहा, ‘बैंक एक पैसा लोन नहीं दे रही है, बैंक का पूरा पैसा सूद सहित वापस कर दिया गया।

एक अन्य सवाल के जवाब में शाह ने बताया कि जय ने मक्का, चावल आदि का निर्यात किया और धनिया आयात किया और 80 करोड़ का टर्नओवर बताकर वो बताते नहीं हैं कि कितना मुनाफा हुआ है क्योंकि 80 करोड़ का टर्नओवर होने के बाद ही डेढ़ करोड़ का नुकसान हुआ है तो कहां मनी लॉन्ड्रिंग हुई।

2020 तक सेना पूरा करेगी ये मुश्किल काम, इन पहाड़ी दर्रों से बनाएगी संपर्क

उन्होंने कहा कि सारा लेन-देन चेक के माध्यम से बैंक में हुआ है।

कांग्रेस पर कसा तंज

शाह से पूछा गया कि आरोप लग रहा है कि जय शाह की कंपनी का टर्नओवर 50 हजार से बढ़कर 80 करोड़ रुपये हो गया। विपक्ष पूछ रहा है कि ये कैसे हो गया?

जवाब पार्टी अध्यक्ष ने कहा कि अच्छा किया आपने ये सवाल उठाया। मैं आपके कार्यक्रम के माध्यम से, पहले कुछ सवाल उठाना चाहता हूं फिर मै इसका जवाब दूंगा। कांग्रेस पर आजादी के बाद से इतने करप्शन के आरोप लगे, लेकिन कांग्रेस ने एक भी मानहानि का केस नहीं किया। न ही 100 करोड़ के मानहानि केस करने की हिम्मत हुई। आखिर क्यों?

आगे उन्होंने कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि न ही कंपनी ने सरकारी जमीन ली है और न ही बोफोर्स की तरह दलाली खाई है तो इसमें भ्रष्टाचार का सवाल ही पैदा नहीं होता।

=>
LIVE TV