Wednesday , October 18 2017

शांति के बाद BHU में फिर बवाल, हरकत में आए सीएम योगी

बीएचयूलखनऊ। बीती रात की हिंसक घटनाओं के बाद परिसर शांति बहाली की ओर बढ़ ही रहा था कि रविवार दोपहर अचानक बीएचयू परिसर का माहौल एकाएक गर्म हो गया।

दोपहर 12 बजे ब्रोचा छात्रावास के सामने से गुजर रहे ट्रैक्टर में आग लगा दी गई। वहीं एलडी गेस्ट हाउस चौराहे पर शांति मार्च निकाल रही छात्राओं पर प्रॉक्टोरियल बोर्ड के सुरक्षाकर्मियों ने लाठीचार्ज कर दिया।

अब इस मामले का सीएम योगी आदित्यनाथ ने संज्ञान लिया है। जल्द ही कुछ बड़े अफसरों पर कार्रवाई की जा सकती है।

बता दें, शनिवार की आधीरात को काशी हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) परिसर जंग का मैदान बन गया। यहां छेड़खानी के विरोध में सड़क पर उतरीं छात्राओं की अनसुनी करने और वीसी लाज पर पहुंचे कुछ छात्र-छात्राओं पर सुरक्षाकर्मियों द्वारा लाठीचार्ज के बाद हालात काबू में करने के लिए परिसर में घुसी फोर्स को हास्टल के छात्रों का कड़ा विरोध झेलना पड़ा।

इस सुरक्षाकर्मियों ने हवाई फायरिंग व आंसू गैस दागने के साथ ही जवाबी पथराव भी किया। मगर हालात काबू में नहीं आए। मारपीट और पथराव के बीच दस बमों के धमाकों से दो-ढाई किलोमीटर का इलाका थर्रा उठा।

जानिए क्या है मामला

गुरुवार शाम को विभाग से हास्टल जा रही दृश्य कला संकाय की छात्रा संग भारत कला भवन के पास कुछ युवकों ने छेड़खानी के साथ कपड़े उतारने की कोशिश की थी। किसी तरह हास्टल पहुंची छात्रा के बताने पर त्रिवेणी हास्टल की छात्राएं रात में ही सड़क पर आ गईं।

लेकिन मनाने पर रात में वे शांत हो गई थीं, लेकिन शुक्रवार सुबह छह बजे ही त्रिवेणी हास्टल की छात्राओं ने सिंहद्वार पर आंदोलन शुरू कर दिया। उनका कहना था कि चंद मिनट के लिए आकर कुलपति समस्याएं सुन लेते तो वे धरना खत्म कर देतीं। बीएचयू प्रशासन की अनदेखी व संवेदनहीनता के चलते छात्राओं ने शुक्रवार की रात सड़क (सिंहद्वार) पर गुजारी।

=>
LIVE TV