हजारों सालों बाद फिर सामने आयेंगे डायनासोर, गुजरात में हुआ है ये काम

गुजरात के बालासिनोर में देश का पहला अनोखा पार्क बनकर तैयार है। यह दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा और देश का पहला डायनासोर म्यूजियम पार्क है, जिसे जल्द ही आम लोगों के लिए खोल दिया जाएगा। यह पार्क 121 एकड़ में बनाया गया है।

डायनासोर म्यूजियम पार्क

आपको जानकर हैरानी होगी कि 36 साल पहले यानी साल 1983 में इसी जगह पर डायनासोर के जीवाश्म पाये गये थे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यहां डायनासोर के 10 हजार अंडों के अवशेष भी मिले थे।

साल 2003 में इस जगह पर खुदाई के दौरान डायनासोर की कई नयी प्रजातियां मिली थीं। यहां नर्मदा नदी के किनारे डायनासोर के कंकाल, मसलन उनके मस्तिष्क, कमर, पैर और पूंछ की हड्डियां पायी गयी थीं। यहां बालासिनोर से 11 किलोमीटर दूर रैयोली गांव हमेशा से विशेषज्ञों के शोध का केंद्र रहा है।

इंजीनियर्स इंडिया लिमिटेड दे रहा है बेहतरीन मौका, ट्रेनी के पदों पर हैं बंपर भर्तियाँ

इस जगह को दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा डायनासोर जीवाश्म स्थल माना जाता है। डायनासोर के विशेषज्ञों का मानना है कि लगभग 6.5 करोड़ साल पहले यहां डायनासोर की लगभत सात प्रजातियां रहा करती थीं।

=>
LIVE TV