सीएम योगी का ‘अंधा कानून’, 12वीं की छात्रा को प्रधान के बटे ने सरेराह उतारा मौत के घाट

योगीबलिया। उत्तर प्रदेश में बीजेपी सरकार बनने के बाद भी कानून व्यवस्था में सुधार होता नजर नहीं आ रहा है। योगी सरकार के एंटी रोमियो स्क्वायड का कोई खौफ शोहदों पर नजर नहीं आ रहा है। आए दिन महिलाओं और छात्राओं पर हो रहे हमले इसकी बानगी भर है। ताजा मामला बलिया जिले का है। यहां ग्राम प्रधान के दबंग बेटे ने स्कूल जा रही 12वीं की एक छात्रा की गला रेतकर हत्या कर दी।

मामला जिले के बांसडीह रोड थाना क्षेत्र के बजहां गांव का है। यहां पर काली मंदिर के पास मंगलवार सुबह करीब सवा सात बजे बाइक सवार दो युवकों ने साइकिल से स्कूल जा रही छात्रा रागिनी दुबे की चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी और फरार हो गए।

मृतक छात्रा रागिनी के साथ उसकी छोटी बहन शिया दुबे भी थी। छोटी बहन ने मदद के लिए शोर भी मचाया मगर किसी ने उनकी सहायता नहीं की। शिया दुबे के मुताबिक बाइक से आए प्रधान पुत्र प्रिंस तिवारी ने रागिनी की साइकिल रोकी फिर उसके गले पर चाकू से कई वार कर उसकी हत्या कर दी।

यह भी पढ़ें: राज्यसभा चुनाव: अहमद पटेल बने कांग्रेस के ‘बाजीगर’, शाह-स्मृति की जोड़ी ने भी दिखाया कमाल

मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने मौके से हत्या में इस्तेमाल चाकू को बरामद कर लिया है। पिता जितेंद्र की तहरीर पर पुलिस ने ग्राम प्रधान कृपाशंकर तिवारी, पुत्र प्रिंस, सोनू, नीरज और राजू यादव के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

 

=>
LIVE TV