सालाना वेतन 33 लाख रुपये से कम वालों को छोड़ना होगा ब्रिटेन

download (19)एजेन्सी/ब्रिटिश सरकार की नई वीजा नीति से प्रभावित होने वाले भारतीय पेशेवरों ने सरकार से एक बार फिर कहा है कि वह इस पर पुनर्विचार करे। 6 अप्रैल से लागू होने वाली वीजा नीति से हजारों भारतीय पेशेवर प्रभावित होंगे।

ब्रिटेन ने अपने टियर-2 वीजा नियम में तब्दीली की है। नए नियम के मुताबिक 35 हजार पाउंउ (करीब 33 लाख रुपये) सालाना से कम कमाने वाले प्रोफेशनल्स को वीजा की अवधि खत्म होने पर वापस जाना होगा।

पहले यह सीमा 21 हजार पाउंड (करीब 19 लाख 84 हजार रुपये) की थी। नए नियम में यूरोपियन यूनियन (ईयू) के सदस्य देशों की नागरिकता वाले प्रोफेशनल्स को छूट दी गई है। कई भारतीय इस नये नियम के खिलाफ ‘स्टॉप35थाउसेंड’ नामक कैंपेन चला रहे हैं।इस समूह का कहना है कि नियम में तब्दीली गैर-ईयू नागरिकों के साथ भेदभाव है। समूह चाहता है कि सरकार अपनी नई नीति पर पुनर्विचार करे। इस समूह से जुड़े विज्ञापन कंपनी में मैनेजर अभिजीत ने कहा कि ‘यह मेरा देश है।

मैंने यहां पढ़ाई की। इस जगह से प्यार किया। अपनी पहली नौकरी पाई। शादी की और परिवार शुरू किया। मेरे पास एक नौकरी है, जिसे मैं प्यार करता हूं। इससे ज्यादा मैं क्या चाह सकता हूं?’

उन्होंने कहा कि ‘अगर मुझे यहां से जाने को कहा गया, तो मैं तबाह हो जाऊंगा। मुझे अपने दोस्तों को छोड़ना पड़ेगा, कंपनी और इस जगह को जिसे मैं प्यार करता हूं।’

=>
LIVE TV