सदिग्ध परिस्थितियों में होजरी कारोबारी के गले में लगी गोली, दोस्त फरार

Report- Rahul katiyar

कानपुरः  कानपुर में संदिग्ध परिस्थितियों में होजरी कारोबारी को गोली लग गयी जिसके बाद उसके दोस्त उसे लेकर मेडिकल कालेज पहुंचे जंहा डाक्टरों ने उसे मृत घषित कर दिया |

मृतक के दोस्तों ने उसके शव को उसके घर पर छोड़ दिया और फरार हो गए | मृतक वेदप्रकाश डी-2 गैंग का सदस्य था और क्षेत्र में सट्टा भी करवाता था | जिसको लेकर पिछले दिनों उसकी एक युवक से विवाद भी हुआ था जिसको लेकर उसकी ह्त्या होने के कयास लगाए जा रहे है |

चमनगंज के फहीमाबाद का रहने वाले होजरी कारोबारी वेद प्रकाश जयसवाल की फजलगंज के गड़रियन पुरवा में दुकान है | देर रात वेद प्रकाश थाने के सामने स्थित हाते अपने दोस्त जमीर,आफताब और मनोज शुक्ला के साथ बैठकर शराब पी रहा था |

उसी दौरान मनोज की लाइसेंसी रिवाल्वर से चली गोली वेद प्रकाश के गले में जा लगी | तीनों दोस्तों ने मौके पर खून साफ किया. जमील और आफताब वेद प्रकाश को लेकर मेडिकल कालेज पहुंचे जंहा डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया |

मुठभेड़ में पकड़े गए हत्या, लूट सहित कई वारदातों को अंजाम देने वाली गैंग के 7 सदस्य

तीनो दोस्तों ने मृतक वेदप्रकाश का शव उसके घर पर छोड़कर भाग गए | पुलिस ने मनोज के दोस्तों जमील और आफताब को हिरासत में ले लिया और फरार मनोज शुक्ला की तलाश की जा रही है | वंही इस पूरी घटना को पुलिस हादसा मानकर जांच कर रही है |

=>
LIVE TV