भारतीय मूल के एक स्कूली छात्र ने किया कमाल, बनाए इंसानों की मदद करने वाले प्रोटोटाइप रोबोट

कभी-कभी नन्हे हाथ भी कुछ ऐसा करके दिखा देते हैं कि बड़े-बड़े भी उनके हुनर का लोहा मानने के लिए तैयार हो जाते हैं. कुछ ऐसा ही कमाल कर के दिखाया है यूएई में रहने वाले भारतीय मूल के एक स्कूली छात्र ने. इस छात्र में बेहद कम उम्र में दो ऐसे रोबोट बना डाले हैं, जो अब इस देश-दुनिया के सबसे बड़े काम में इंसानों की मदद करने वाले हैं. क्या, ऐसा अद्भुत कर डाला इस बच्चे ने, आइए जानें इसके बारे में सबकुछ यहां.

भारतीय मूल के एक स्कूली छात्र ने किया कमाल, बनाए इंसानों की मदद करने वाले रॉबर्ट

ऐसी मिली है जानकारी
सबसे पहले आपको इस छात्र के बारे में बता दें. ये है संयुक्त अरब अमीरात यानी कि यूएई में रहने वाला भारतीय मूल का छात्र. इस छात्र का नाम साईंनाथ मणिकंदन बताया गया है. वह अबु धाबी के जेम्स यूनाइटेड इंडियन स्कूल का छात्र है. दरअसल साईंनाथ ने अपने हुनर से दो रोबोट तैयार किए हैं. ये रोबोट पर्यावरण को साफ रखने के साथ कृषि कार्यों को आसान बनाने में बड़ी मदद करने वाले हैं.

16 साल पुरानी लड़ाई पर विवेक ओबेरॉय ने सलमान खान से पूछा ये सवाल…

इनमें से एक मरीन रोबोट क्लीनर (एमबोट क्लीनर) समुद्री की ऊपरी सतह को साफ करने में कारगर है, तो वहीं दूसरा एग्रीकल्चर रोबोट एग्रीबोट उन मजदूरों के लिए फायदेमंद होने वाला है, जो यूएई जैसे गर्म देशों में काम करते हैं.

ऐसे करेगा ये रोबोट काम
बता दें कि साईंनाथ ने जो एमबोट तैयार किया है, वह असल में एक नाव की शक्ल का है. इसकी मदद से समुद्र की सतह पर तैरने वाले कचरे को आसानी से साफ किया जा सकता है.

यह प्रोटोटाइप रोबोट है, जो रिमोट से भी चलाया जा सकता है. इसमें दो मोटरें लगी हैं, जिनसे नाव पानी में तैरती है. वहीं अगर बात करें इस रोबोट के काम करने की तो एमबोट के पहियों में दो छड़ीनुमा चीजें लगी हैं. दोनों चीजें तीसरी मोटर से जुड़ी हैं. इनकी मदद से पानी में मौजूद कचरा स्टोरेज बास्केट में पहुंच जाता है. यह बैटरी से चलता है, लेकिन इसे सोलर पैनल से भी चलाया जा सकता है.

पीएम को घेरने के चक्कर में महात्मा गांधी को लेकर ये क्या कह गए सिद्दू कि…

ऐसे करेगा ये खेतों की जुताई में मदद
साईंनाथ कहते हैं कि बड़े पैमाने पर इनका निर्माण कर वह पर्यावरण को दुरुस्त रखने में लोगों की मदद करने वाले हैं. इसी के साथ उन्होंने बताया कि एग्रीबोट में भी सोलर पैनल लगा है, इसमें ड्रोन के इस्तेमाल की भी सुविधा है. ड्रोन के जरिए खेतों में बीजारोपण किया जा सकता है. इसके इतर एग्रीबोट से खेत की जुताई भी की जा सकती है.

=>
LIVE TV