मोदी ने कांग्रेस पर कसा तंज, कहा बस सपने दिखाने से कुछ नहीं होगा, हम कर रहे हैं साकार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अमेठी के गढ़ में राहुल गांधी व कांग्रेस पर सीधा हमला किया है। उन्होंने गांधी, नेहरू परिवार का नाम लिए बिना कहा कि अमेठी में बड़े-बड़े लीडर आए होंगे लेकिन अब अमेठी उनके नाम से नहीं, एके-203 राइफलों के नाम से जानी जाएगी। राफेल विमान के विरोध को उन्होंने कांग्रेस नेताओं की रक्षा सौदे में कमीशन ना मिलने की बौखलाहट बताया।

मोदी
अमेठी से लेकर देश के विकास की अनदेखी के लिए उन्होंने कांग्रेस को कठघरे में खड़ा करते हुए कहा कि वे झूठे सपने दिखाते थे, हम उन्हें साकार कर रहे हैं। वोट लेकर भूल जाना कुछ परिवारों की प्रवृत्ति है।

प्रधानमंत्री बनने के बाद पहली बार राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र में आए नरेंद्र मोदी ने अमेठी को 538 करोड़ की योजनाओं की सौगात देने के साथ ही लोगों से खुद को कनेक्ट किया। उन्होंने अवधी में लोगों से हालचाल पूछा, अमेठी को पहचान देने वाले टीकरमाफी के महाराज, बाबा पुरुषोत्तम, मलिक मोहम्मद जायसी व आर्य समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष व जनसंघ के पूर्व विधायक रहे राजा रणंजय सिंह को याद किया।

मसूद अजहर की मौत कही PAK की कोई साजिश तो नहीं! कल से सोशल मीडिया पर छाया

गांधी, नेहरू परिवार का गढ़ रही अमेठी में उन्होंने कांग्रेस नेताओं का नाम लिए बिना कहा कि वह जो घोषणा करने जा रहे हैं, वह अमेठी की नई पहचान और शान से जुड़ी हैं। यहां बड़े-बड़े लीडर आए होंगे लेकिन अमेठी अब उनके नाम से नहीं, दुनिया की सर्वश्रेष्ठ राइफलों में शामिल एके-203 के निर्माण से जानी जाएगी।

यह रुस और भारत का संयुक्त उपक्रम है। उन्होंने कहा, मेरी अमेठी में बनने वाली एके-203 राइफलें आतंकियों और नक्सलियों से मुठभेड़ में काम आएंगी। दुनिया के देशों को यहां से राइफल निर्यात की जाएंगी।
वादा नहीं निभाते, बड़ा झूठ बोलते हैं राहुलपीएम मोदी ने कहा, जो काम आज शुरू हो रहा है वह 8-9 साल पहले शुरू हो जाना चाहिए था। यह फैक्ट्री गवाह है कि पहले कैसे सेना व सुरक्षा के साथ खिलवाड़ किया जाता था। राहुल गांधी का नाम लिए बिना उन्होंने कहा कि यहां के सांसद ने कहा था कि 2010 में इसमें काम शुरू हो जाएगा। उस समय कांग्रेस की सरकार थी।

उन्होंने कहा, जो इतना काम नहीं करा पाते, उन पर काहे भरोसा करते हो। 2013 तक बिल्डिंग का काम लटका रहा। उन्होंने याद दिलाया कि सांसद ने कहा था कि 1500 लोगों को रोजगार मिलेगा। वह कहते हैं कि हम वादा करते हैं तो निभाते हैं, मत भूलिए, वह बड़ा झूठ बोलते हैं। उन्होंने लोगों की आंखों में धूल झोंकी है। केवल 200 लोगों को रोजगार मिला। इन दिनों तक अत्याधुनिक राइफलों का निर्माण नहीं होने से सेना के वीर जवानों के साथ अन्याय हुआ। रोजगार न देकर युवाओं के साथ अन्याय किया गया।

जानिए कैसे 20 साल पहले जसबीर जस्सी के इस जबरदस्त ह‍िट सांग ने दिलाई थी उनको पहचान
कांग्रेस ने सुरक्षा से खिलवाड़ किया
पीएम मोदी ने कहा कि पिछली सरकार ने सुरक्षा बलों की सुरक्षा से भी खिलवाड़ किया है। 2009 से 2014 तक हमारे जवान बुलेटप्रूफ जैकेट के लिए तरसते रहे। पांच साल का समय कम नहीं होता। हमने बीते साढ़े चार साल में 2.30 लाख बुलेट प्रूफ जैकेट खरीदने का ऑर्डर दिया है। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि राफेल व आधुनिक तोप का इंतजार कराने वाले कौन थे ? हमने हावित्जर तोप का सौदा किया।
नीयत खराब इसलिए लटकाए रहे राफेल सौदा
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, जिनकी नीयत ही खराब साफ हो, उनसे क्या उम्मीद कर सकते हैं। वायु सेना दशकों से लड़ाकू विमानों के लिए कह रही थी। पिछली सरकार सालों तक राफेल सौदे को लटकाए रही। सरकार गई तो इसे ठंडे बस्ते में डाल गई। यह हमारी सरकार है कि अगले कुछ महीने में राफेल विमान भारत के आसमान में दिखेगा।

राहुल गांधी व कांग्रेस की तरफ इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि निजी हित के लिए राफेल विमान सौदे को नाकाम करने की कोशिश की गई। सुप्रीम कोर्ट, सीएजी व संसद कह रही है कि भारत सरकार ने देश हित में, सही समय पर सही निर्णय लिया है। पर, वे झूठ पर झूठ बोले जा रहे हैं। रक्षा सौदे में कमीशन न मिलने की बौखलाहट कुछ लोगों के चेहरों पर देखी जा सकती है।

महाशिवरात्रि पर आज कुंभ का आखिरी दिन, श्रद्धालु लगाएंगे आस्था की डुबकी
पीएम मोदी ने कांग्रेस नेताओं का नाम लिए बिना कहा कि जिन्होंने देश की सुरक्षा की परवाह नहीं की, उन्होंने वैसा ही व्यवहार अमेठी के साथ किया। अमेठी की क्या स्थिति है, यह आप लोगों से बेहतर कौन जानता है। नीयत ठीक न हो, मंशा गलत हो और झूठ ही झूठ बोलना हो तो ऐसे ही होता है। स्टील फैक्ट्री के लिए गैस की व्यवस्था नहीं की, मेगा फूड पार्क का भी यही हाल हुआ। गौरीगंज में साइकिल फैक्ट्री के लिए किसानों से जमीन ले ली और कारखाना नहीं लगाया। बाद में पिछले दरवाजे से यह जमीन अपने नाम करा ली। विकास के नाम पर अमेठी की भावना से खेल किया गया।
सत्ता स्वार्थ बन जाए तो पीछे छूट जाता है आम आदमी
प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि जब सत्ता स्वार्थ बन जाती है तो देश की जरूरतों का पीछे छूटना स्वाभाविक है। जब रिश्तेदारों का भला प्राथमिकता बन जाए तो सामान्य आदमी पीछे छूट जाता है। वोट लेकर जनता को भूल जाना कुछ परिवारों की प्रवृत्ति है। वे लोगों को गरीब बनाए रखना चाहते हैं ताकि गरीबी हटाओ का नारा लगाते रहें, जबकि हम उन्हें गरीबी से बाहर निकाल रहे हैं। भारत दुनिया के उन देशों में है जो गरीबी से बाहर निकल रहे हैं।
हम 10 साल में देंगे 7.50 लाख करोड़
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, गरीबी की तरह किसानों की दिक्कतों को भी कांग्रेस ने नजरंदाज किया। किसानों की नाराजगी बढ़ती तो उन्हें कर्जमाफी के भ्रम में फंसा देते थे। 2008 में कांग्रेस ने 52 हजार करोड़ रुपये का कर्ज माफ किया। इसका लाभ साढ़े तीन करोड़ किसानों को मिला। यानी 25 फीसदी किसानों को ही फायदा हुआ। बाकी पैसा ठेकेदारों, दलालों, बिचौलियों व इनके सिपहसालारों की जेब में गया। पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ हम 12 करोड़ किसानों तक पहुंचा रहे हैं। 2 हजार रुपये की पहली किस्त किसानों के खाते में पहुंच गई है। 10 साल में किसानों को 7.50 लाख करोड़ रुपये दिए जाएंगे।
स्मृति के लिए नया इतिहास रचेगा अमेठी
पीएम मोदी ने अमेठी के लोगों को लुभाने और स्मृति ईरानी के पक्ष में माहौल बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। उन्होंने कहा कि भले ही 2014 में स्मृति इरानी चुनाव नहीं जीत पाईं लेकिन दिल जीतने में सफल रहीं। उन्होंने पांच साल अमेठी को इतना प्यार दिया कि कभी लगा नहीं कि वह हारी हैं। अमेठी के लोग नया इतिहास रचने जा रहे हैं। यह ऐसा इतिहास होगा, जिसकी गूंज पूरे देश में सुनाई देगी। उन्होंने चुनाव हारने के बावजूद पांच साल में स्मृति ईरानी द्वारा किए गए काम की सराहना की।
योगी, निर्मला सीतारमण व स्मृति बोलीं
समारोह में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी समेत कई नेताओं ने विचार रखे।

=>
LIVE TV