Breaking News

मोदी ने आज अपने संबोधन में गिनाए राशन के दाम

लोकसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कई राज्यों के दौरे शुरू हो गए हैं. मंगलवार को प्रधानमंत्री ओडिशा और केरल के दौरे पर रहेंगे, यहां कई उन्हें कई परियोजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन करना है. सबसे पहले पीएम मोदी ओडिशा के बलांगीर पहुंचे, यहां उन्होंने कई परियोजनाओं का उद्घाटन किया. बीते एक महीने में प्रधानमंत्री का ये तीसरा ओडिशा दौरा है.

मोदी

कई योजनाओं का उद्घाटन करने के बाद प्रधानमंत्री ने बलांगीर में जनसभा को संबोधित किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस दौरान दूरदर्शन के कैमरामैन अचुत्यानंद साहू को भी श्रद्धांजलि दी, जिन्होंने नक्सली हमले में अपनी जान गंवा दी थी. उन्होंने कहा कि मैं एक महीने में तीसरी बार ओडिशा आया हूं, यहां एक महीने में 20 हजार करोड़ से अधिक परियोजनाओं का उद्घाटन/शिलान्यास किया है.

यहां रैली में प्रधानमंत्री ने कहा कि ओडिशा के लोगों को पता है कि देश को आगे बढ़ाने के लिए काम करना पड़ेगा, लेकिन दिल्ली में बैठे लोगों को इसकी समझ नहीं है. उन्होंने कहा कि ओडिशा सांस्कृतिक ओजस का अहम हिस्सा है. ओडिशा में जितने भी ऐतिहासिक मंदिर हैं, उनका नवीनीकरण करने का सिलसिला हमारी सरकार ने उठाया है.

उन्होंने कहा कि भारत के मंदिरों से लूटी या फिर चुराई गई मूर्तियों को दूसरे देशों से वापस लाया गया है. पहले की सरकारों के सामने भी इस प्रकार के सवाल आते थे, लेकिन उन्होंने ध्यान नहीं दिया. विपक्षी अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का भी विरोध करते हैं, ये हमारी विरासत है. इन लोगों ने सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा का विरोध किया, शिवाजी और बाबा साहेब की मूर्ति पर भी इन्होंने सवाल उठाए. जब हमने अंडमान में कुछ द्वीपों का नाम नेताजी सुभाष चंद्र बोस के ऊपर रखा तो इन्होंने विरोध किया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारी सरकार ने जितना काम पिछले 5 साल में ओडिशा के लिए किया है, उतना अगर विरोधी करते तो उन्हें 25 साल तक लग जाते. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने अपने कार्यकाल में 6 करोड़ से अधिक फर्जी पेंशन पाने वाले, फर्जी राशन लेने वाले लोगों को खोजा और ये सब बंद किया, इससे देश के खजाने का काफी पैसा बच रहा है.

PM मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार 24-25-30 रुपये में एक किलो गेंहू खरीदती है और उसे सिर्फ 2 रुपये में राशन की दुकान में गरीब को देती है. चावल भी केंद्र सरकार 30-32 रुपये में खरीदती है और उसे सिर्फ 3 रुपये में गरीब को देती है. लेकिन इस गेंहू/चावल को गरीब तक नहीं पहुंचने दिया जाता है. पिछले चार वर्ष में बिना जनता पर बोझ डाले सरकार ने राशन की कीमत को स्थिर रखा है. जिनके पास से पैसे जाते थे, अब उनके पास ये जाना बंद हो गया है इसलिए ये लोग मोदी को गाली देते हैं.

रैली में प्रधानमंत्री ने कहा कि आज मोदी के खिलाफ साजिश की जा रही हैं, मोदी को रास्ते से हटाने के लिए आज ये लोग इकट्ठे होने लगे हैं. मैं इन्हें कहना चाहता हूं कि ये चौकीदार गरीबों की कमाई के सारे खेल बंद कराएगा. जिस-जिसने गरीब को लूटा है उसके ये चौकीदार सजा दिला कर ही मानेगा.

=>
LIVE TV