भड़काऊ भाषण मामले में जेल गए डॉ. कफ़ील के विरुद्ध NSA के विरुद्ध कार्यवाई

REPORT:-ARJUN VERSHNEY/Aligarh

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में पिछले दो महीने से नागरिकता संशोधन कानून सहित एनआरसी व एनपीआर को लेकर विरोध प्रदर्शन चल रहा है। इसी कड़ी में बीते 12 दिसम्बर को एएमयू में छात्रों द्वारा बुलाए जाने पर डॉ कफ़ील द्वारा दिए गए भड़काऊ भाषण को लेकर सिविल लाइन्स थाने में 13 दिसंबर को मुक़द्दमा पंजीकृत किया गया था।

डॉ कफील

जिसके बाद फ़रार चल रहे डॉ कफ़ील को यूपी एसटीएफ ने मुंबई से गिरफ़्तार किया था। कोर्ट में पेश करने के बाद डॉ कफ़ील को सुरक्षा की दृष्टि से मथुरा जेल में भेज दिया था। परसों भड़काऊ भाषण मामले में कफ़ील को ज़मानत मिल गयी थी। लेकिन रिहाई न होने से अलग अलग बातों के स्वर उठने लगे थे।

नृत्य गोपाल दास ही होंगे राम मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष

अब इस पर विराम लगाते हुए इस बाबत जानकारी देते हुए अलीगढ़ के अपर पुलिस अधीक्षक अपराध ने बताया कि डॉ. कफ़ील सिविल लाइन्स थानाक्षेत्र के एक मुक़द्दमे में मथुरा ज़िला कारागार में निरुद्ध हैं।

उनके विरुद्ध अलीगढ़ ज़िला मजिस्ट्रेट ने राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) की कार्यवाही की है। डीएम के इस आदेश की प्रति को मथुरा जेल में डॉ० कफ़ील के लिए तामील करा दिया गया है।

=>
LIVE TV