भूमि अधिकग्रहण के विरोध में किसानों ने किया धरना प्रदर्शन, एसडीएम और एयरपोर्ट अधिकारियों ने…

रिपोर्टर — नीरज श्रीवास्तव

लखनऊः भूमि अधिग्रहण के विरोध में किसानों का एयरपोर्ट पर विशाल धरना प्रदर्शन। एसडीएम और एयरपोर्ट अधिकारियों द्वारा आश्वासन दिए जाने के बाद किसान शांत हुए ।

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत के नेतृत्व में सरोजनीनगर के सैकड़ों किसानों ने रविवार को अमौसी एयरपोर्ट स्थित एयर ट्राफिक कण्ट्रोल आफिस के सामने धरना दिया। जानकारी पर धरना स्थल पर पहुंचे सरोजनीनगर उपजिलाधिकारी चन्दनकुमार पटेल।

चंदन कुमार पटेल ने किसानों कि समस्याओं पर बताया कि वर्ष 1956 फसली आरसी के मुताबिक यहां के फर्रूखाबाद-चिल्लावां, बेहसा व रहीमाबाद सहित आसपास गांवों के किसानों को वर्ष 1956 में मुआवजा देकर जमीन अधिग्रहीत की गयी थी।

धरना स्थल पर एकत्रित सैकड़ो किसानों का नेतृत्व कर रहे भाकियू राष्ट्रीय अध्यक्ष राकेश टिकैत ने कहा कि भूमि अर्जन कानून में यह साफ लिखा है कि अधिग्रहण के पांच वर्ष तक कब्जा न लिया गया तो अधिग्रहीत भूमि पर किसान का ही कब्जा रहेगा। किसान नेता टिकैत ने चेतावनी देते हुए कहा कि बिना मुआवजे के किसान एयरपोर्ट को जमीन नहीं देंगे।

कैबिनेट मिनिस्टर अचानक पहुंचे गाजियाबाद के एमएमजी हॉस्पिटल, दिए ये निर्देश

उन्होंने कहा कि अगर किसानों को इस संबंध में परेशान किया जाएगा तू एयरपोर्ट प्रशासन के खिलाफ किसान बड़ा आन्दोलन करने को मजबूर होंगे ईस दौरान संगठन के जिलाध्यक्ष गुरूमीत सिंह की ओर से उप जिलाधिकारी को जिलाधिकारी के नाम सम्बोधित एक ज्ञापन भी सौंपा गया। इस अवसर पर किसान नेता राकेश टिकैत के अलावा भाकियू के दर्जनों पदाधिकारी व सैकड़ों किसान मौजूद रहे।

=>
LIVE TV