Thursday , September 21 2017

कटाक्ष- देश में नहीं ड्रैगन को चुनौती देने का दम, सिर्फ चिल्ला कर बन रहे शेर, जंग में भारत का…

भारत-चीन में तलवारेंनई दिल्ली। डोकलम इलाके को लेकर भारत-चीन में तलवारें खिंच गई हैं। जहां चीन भारत को पीछे हटने की चेतावनी दे रहा है। वहीं भारत भी अपने कदम पीछे लेने को तैयार नहीं। इस बीच जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला का बेहद ही चौकाने वाला बयान सामने आया है। इस बयान में उन्होंने भारतीय सेना को न केवल कमजोर बताया बल्कि चीन से युद्ध न करने की सलाह दी। उनका कहना है कि यदि युद्ध हुआ तो नुकसान भारत का ही होगा। इसके साथ ही उन्होंने बात-चीत से मामले को सुलझाने की सलाह दी।

टेक कंपनी पिता बनने पर दे रही 3 महीने की पैटरनिटी लीव

ख़बरों के मुताबिक़ जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने भारत के चीन के साथ रिश्तों को लेकर तंज कसा।

फारूक अब्दुल्ला ने कहा, “चीन आज पाकिस्तान का दोस्त है, अगर हमने (भारत) उनसे दोस्ती निभाई होती तो चीन पाकिस्तान का दोस्त नहीं होता।”

नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता अब्दुल्ला यही नहीं रुके। उन्होंने आगे कहा कि उनके (चीन) पास अक्साई चिन, हम उसे लेकर चिल्ला तो सकते हैं लेकिन हमारे पास ताकत नहीं है कि हम उनसे वह ले सकें।

इससे पहले राज्य के पूर्व सीएम अब्दुल्ला ने वर्तमान मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की ओर से चीन विवाद को लेकर दिए बयान पर टिप्पणी की थी।

दिवंगत सदस्यों को श्रद्धांजलि देने के बाद लोकसभा की कार्यवाही स्थगित

अब्दुल्ला ने कहा कि मुझे नहीं पता कि चीन कश्मीर में दखल दे रहा है या नहीं। उनको ज्यादा जानकारी होगी क्योंकि वह मुख्यमंत्री हैं।

अब्दुल्ला ने कहा, “पता नहीं उनके पास यह जानकारी कहां से आई है। मेरे ख्याल से जब राजनाथ जी से मिले होंगे तब ही उनको इस बात की जानकारी हुई होगी।”

उन्होंने कहा, “मेरा मानना है कि चीन से लड़ाई लेना अच्छा नहीं होगा। हम लोगों को बातचीत से मामले को हल करना चाहिए।”

बता दें जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने शनिवार को कहा कि कश्मीर में बवाल के पीछे चीन का भी हाथ है। उन्होंने कहा कि अब कश्मीर के मामले में चीन भी दखल दे रहा है।

दिल्ली में गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात के बाद महबूबा ने कहा, “कश्मीर में समस्या कानून व्यवस्था की नहीं है। बाहरी ताकतों का माहौल बिगाड़ने में हाथ है। विदेशी ताकतों द्वारा घुसपैठ की लड़ाई है और अब तो चीन भी इसमें हाथ डाल रहा है।”

देखें वीडियो :-

=>
LIVE TV