भारत की बर्बादी का सपना देख रहे पाकिस्तान ने बहाए घड़ियाली आंसू, पीएम मोदी से की भावुक अपील

भारत की बर्बादीबीजिंग| भारत की बर्बादी का सपना पाले बैठे पाकिस्तान ने उम्मीद जताई है कि इस साल दक्षेस शिखर सम्मेलन में हिन्दुस्तान जरूर भाग लेगा। दक्षेस शिखर सम्मेलन के इस्लामाबाद में आयोजित होने की संभावना है।

भारत की बर्बादी का सपना देख रहे पाक का पैंतरा

पाकिस्तानी दूतावास में मिशन की उपाध्यक्ष मुमताज जहरा बलोच ने शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) से इतर पत्रकारों से कहा, “हम वास्तव में दक्षेस के लिए आशा रखते हैं कि मतभेदों के बावजूद भारत दक्षेस शिखर सम्मेलन में पाकिस्तान आएगा, क्योंकि अंतत: हम पड़ोसी हैं।”

साल 2016 में भारत ने अपने एक सैन्य अड्डे पर आतंकवादी हमले के बाद पाकिस्तान में दक्षेस शिखर सम्मेलन में भाग नहीं लिया था। कई दूसरे सदस्य देशों ने भी इसका अनुसरण किया था, जिससे इस वार्षिक बैठक को रद्द करना पड़ा था।

बलोच ने उन रपटों को खारिज किया जिनमें कहा गया था कि भारत और पाकिस्तान के एससीओ में शामिल होने के बाद उनके द्विपक्षीय विवाद से समूह को नुकसान पहुंचेगा।

उन्होंने कहा, “यह विवादों को सुलझाने का कोई संगठन नहीं है। यह साझा चुनौतियों और साझा विकास और क्षेत्र के लिए कार्य करने का एक संगठन है।”

उन्होंने कहा, “यह सिर्फ मीडिया की एक अटकलबाजी है। यह पाकिस्तान और भारत के लिए एक महत्वपूर्ण संगठन है। हम उम्मीद करते हैं कि हम कुछ सकारात्मक चीजें लाएंगे, जो हमारे क्षेत्र के विकास में योगदान देगा और एससीओ के सभी पक्षों के बीच ज्यादा समझदारी में मददगार होगा।”

उन्होंने कहा, “निसंदेह जब आप साथ काम करते हैं और आप उसी संगठन में होते हैं तो आपको बहुत सारे मुद्दों को सुलझाने का मौका मिलता है।”

LIVE TV