भाजपा ने किया जिसका समर्थन, नीतीश कुमार कर रहें उसी का विरोध, जानें क्या है पूरा मामला

पटना। बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि आतंकी गतिविधियां रोकने के लिए या नियंत्रित करने के लिए जम्मू एवं कश्मीर को विशिष्ट अधिकार देने वाली संविधान की धारा 370 को हटाने की जरूरत नहीं है।

नीतीश कुमार

उन्होंने कहा कि हम लोग इस धारा को हटाने के पक्ष में नहीं हैं। JDU के प्रदेश कार्यालय में संवाददाताओं से बातचीत में नीतीश कहा कि आतंकी गतिविधियों को नियंत्रित करने के लिए और उसका जवाब देने के लिए जो भी जरूरी कार्रवाई हो करनी चाहिए, परंतु 370 हटाने की राय के पक्ष में हमलोग नहीं हैं।

जामिया मिलिया इस्लामिया के HRD मंत्रालय से अनुरोध के बाद भी शाहरुख खान को नहीं मिली डॉक्टरेट डिग्री

उन्होंने कहा, ‘मैं नहीं समझता हूं कि धारा 370 को हटाने की बात कभी हो सकती है। हमलोग इस राय के नहीं हैं और ना ही हमलोग इसका समर्थन करते हैं।’ पुलवामा आतंकी हमले के बाद अलगाववादियों से सुरक्षा वापस लिए जाने का समर्थन करते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार जो भी कर रही है, वह अच्छा है।

राजनीति में कटुता का कोई स्थान नहीं होने की बात करते हुए उन्होंने कहा, ‘राजनीति में जो कटुता का सहारा लेते हैं, वे खुद खत्म ही जाएंगे। पुलवामा हमले से पूरा देश आक्रोशित है। इस मसले पर राजनीति नहीं होनी चाहिए।’

प्रधानमंत्री ने ऐसी भाषा में किया ट्वीट, जिसे लोग बिना समझे मान रहे BEST

व्यवसायी नरेंद्र सिंह के जदयू में आने पर प्रसन्नता जाहिर करते हुए उन्होंने कहा कि राजनीति में युवाओं का प्रवेश आवश्यक है।

राजनीति में नई पीढ़ी की जरूरत है। गौर हो कि नीतीश कुमार की सरकार में शामिल BJP हमेशा से जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाने की मांग करती रही है।

=>
LIVE TV