Sunday , August 20 2017

15 दिन की ट्रेनिंग में संभाली यूपी 100 की स्टेयरिंग, दीवार तोड़ घर में घुसी   

भदोही में यूपी 100भदोही।  उत्तर प्रदेश की सुरक्षा में लगाई गई यूपी 100 सेवा की स्थिति काफी दयनीय है। पहले तो इस सेवा में शामिल की गई खस्ताहाल गाड़ियों का मामला सामने आया था। अब इस सेवा में शामिल ड्राइवरों की लापरवाही भी सामने आने लगी है। ताजा मामले में भदोही में यूपी 100 डायल की बुलेरो गाड़ी अनियंत्रित होकर पलट गयी। यह गाड़ी एक घर की दीवाल तोड़कर घुस गयी। इस हादसे में एक दरोगा और दो सिपाही घायल हुए है। घायल सिपाहियों को वाराणसी ट्रामा सेंटर रेफर किया गया है।

भदोही में यूपी 100 डायल

मामला गोपीगंज इलाके का है। एक सूचना पर यह गाड़ी रवाना हुई थी। जांच-पड़ताल के बाद लौटते वक्त यह हादसा हुआ। बहरोजपुर गांव के पास अचानक गाडी अनियंत्रित होकर पलट गयी। अनियंत्रित गाड़ी सड़क के किनारे एक मकान की दीवार तोड़कर घुस गयी।

यह हादसा इतना भीषण था की बुलेरो गाड़ी के परखच्चे उड़ गए। हादसे में यूपी 100 डायल गाडी के ड्राइवर संजय कश्यप और अनोखे लाल सहित गाडी प्रभारी दरोगा विनोद तिवारी घायल हुए हैं।
सभी घायल पुलिस कर्मियों को ग्रामीणों की मदद से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। यहां चिकित्सको ने दो सिपाहियों की हालत नाजुक होने पर उन्हें वाराणसी रेफर कर दिया है।

वहीं जिस घर में गाडी घुसी उसके बगल के घर में एक परिवार के सात लोग सो रहे थे अगर गाडी उस घर में घुसती तो कई लोगो की जान भी जा सकती है।

ख़बरों के मुताबिक़ यूपी 100 सेवा को चलाने के लिए ड्राइवरों को महज 15 दिनों की ट्रेनिंग देकर कमान सौप दी गई थी। सवाल यह खड़ा होता है कि महज 15 दिन की ट्रेनिंग में कोई कैसे कुशल ड्राइवर बन सकता है।

ट्रेनिंग की इस हकीकत को यदि सच माना जाए तो इसी लापरवाही के कारण ही इस हादसे का होना बताया जा रहा है।

मामले में कोई भी अधिकारी बोलने को तैयार नहीं है। इस घटना को महज एक दुर्घटना बताकर कमियों पर पर्दा डालने की कोशिश की जा रही है।

=>
=>
LIVE TV